अचनाकमार टाइगर रिर्जव खोला गया



 

बिलासपुर।  पर्यटकों के लिए अच्छी खबर:  मुंगेली और गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले की सीमा के बीच स्थित अचानकमार टाइगर रिजर्व कल 1 नवंबर से सैलानियों के लिए खुला गया है । खुशी की बात है कि यहां पहले ही दिन  वन्य जीव प्रेमियों को सड़क किनारे जंगली जानवर दिखाई दिए है जिसे देखकर लोग काफी खुश है।

दरअसल देश के दूसरे टाइगर रिजर्व भले ही 1 अक्टूबर से खुल गए हो  लेकिन देर से अचानकमार टाइगर रिजर्व खुलने के बाद भी सैलानियों के लिए वही उत्सुकता है और यहां  पर्यटक काफी संख्या में  पहुंच रहे हैं ।

यहां अचानकमार और छपरवा गांव के पास वन्य जीव प्रेमी और वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर प्राण चड्ढा और शिरीष डामरे सड़क किनारे दर्जनों बाइसन अर्थात वन भैंसों को विचरण करते देखा और अपने कैमरे में कैद किया।

दर्जनों की संख्या में सड़क किनारे विचरण करते रहे और आने जाने वाले सैलानी वन्यजीवों को काफी करीब से देखकर रोमांचित होते रहे। मरवाही वनमंडल के केवंची और अचानकमार के लमनी के बीच में हीरण की काफी संख्या सड़क किनारे विचरण करती दिखाई दी जिसके वीडियो भी सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहे हैं