अब एक से दूसरे जिला में भी हो सकेगी कस्टम मिलिंग, मिली अनुमति

CG News Today



रायपुर। Buy paddy प्रदेश में धान खरीदी के साथ-साथ कस्टम मिलिंग के लिए तेजी से उठाव हो रहा है। अधिक आवक और सीमित मिलिंग क्षमता वाले जिलों में धान उठाव एवं मिलिंग के लिए अंतर्जिला अनुमति दे दी गई हैं। बता दें कि, प्रदेश में अब तक उपार्जित 19.39 लाख टन धान में से 10 लाख टन का उठाव हो चुका है। धान उपार्जन के लिए इस साल 25.91 लाख किसानों के 31.81 लाख हेक्टेयर रकबे का किया गया है। प्रदेश में अब तक लगभग 5.42 लाख किसानों ने समर्थन पंजीयन मूल्य में धान बेचा गया है।

Buy paddy उल्लेखनीय है कि, छत्तीसगढ़ में 1 नवंबर से धान खरीद की प्रकिया शुरू हो गई है। खरीदी की प्रकिया पूरी करने के लिए  2497 उपार्जन केंद्र बनाए गए हैं। सरकार के आदेश के मुताबिक सामान्य धान 2040 रुपए प्रति क्विंटल और ग्रेड-ए धान 2060 रुपये प्रति क्विंटल में खरीदा जा रहा है।

25 लाख किसानों ने किया रजिस्ट्रेशन

साल 2022-23 में एक लाख 29 हजार नए किसानों के एक लाख 9 हजार हेक्टेयर रकबे का नवीन पंजीयन किया गया है। तकरीबन 25 लाख लोगों ने इस बार धान खरीदी के लिए रजिस्ट्रेशन किया है। सरकार के मुताबिक ये रजिस्ट्रेशन 29.42 लाख हेक्टेयर रकबे के लिए किया गया है। हाल ही में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान खरीदी की तैयारियों की समीक्षा भी की थी। इस दौरान अधिकारियों को किसानों को उपार्जन केन्द्रों पर व्यवस्था दुरुस्त रखने को कहा गया था।