कोरबा : छुरी कला धान उपार्जन केंद्र में अब तक हुई 15 सौ क्विंटल की धान खरीदी.. ऑनलाइन टोकन से किसानों को हो रही सुविधा.



कोरबा/कटघोरा 25 नवम्बर 2022 ( सेंट्रल छत्तीसगढ़ ) : खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में किसानों से समर्थन मूल्य पर धान का उपार्जन सहकारी समितियों में किया जा रहा है। इस वर्ष राज्य शासन द्वारा किसानों को राहत देने के उद्देश्य से 01 नवंबर से ही धान खरीदी प्रारंभ कर दिया गया है। छुरी कला स्थित आदिवासी सेवा सहकारी समिति मर्यादित धान खरीदी अब तके 1500 क्विंटल धान की खरीदी हो चुकी है। उपार्जन केंद्र में सभी तक 40 किसानों ने अपने धान की बिक्री की है। 25 नवम्बर को 8 किसानों के टोकन कटे है। जिसमें 3019O क्विंटल की बिक्री आज होनी है। छुरी कला धान उपार्जन केंद्र प्रतिदिन 1000 क्विंटल का लक्ष्य रखा गया है। छुरी कला आदिवासी सेवा सहकारी समिति में 939 किसानों का पंजीयन है। यहां के प्रबंधक अशोक दुबे ने बताया कि इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में 25 से 26 हज़ार क्विंटल धान खरीदी का लक्ष्य रखा गया है, धान की पैदावार बढ़िया होने से और बिक्री बढ़ने के आसार हैं।

जिले में उपार्जन केन्द्रों के माध्यम से धान खरीदी की जा रही है। यहां किसानों के लिए पेयजल और बैठने की सुविधा उपार्जन केंद्रो में की गई है। शासन द्वारा इस वर्ष किसानों की सुविधा के लिए ‘टोकन तुंहर हाथ’ एप तैयार किया गया है, किसान अब घर बैठे ऑनलाइन टोकन कटवा सकते है। जिससे किसानों में उत्साह है और वे घर बैठे अब टोकन प्राप्त कर रहे है।

छुरी कला उपार्जन केंद्र में धान बेचने आये किसानों का उपार्जन केन्द्र में यहां के किसानों में भारी उत्साह देखने को मिला। धान बेचने आये किसानों ने कहा हमें यहां किसी प्रकार की कोई तकलीफ नहीं हुई, खरीदी केन्द्र में अच्छी व्यवस्था है। छुरी निवासी किसान गोविंद सिंह ठाकुर ने बताया कि उन्होंने 100 क्विंटल धान विक्रय करने आए है। उन्होंने बताया कि समिति के माध्यम से टोकन काटा गया, खरीदी में किसी प्रकार की समस्या नहीं हुई। धान विक्रय का पैसा भी अकाउंट में समय पर आ जाता है।

समिति प्रबंधक अशोक दुबे का कहना है कि इस वर्ष धान की फसल कटाई पिछडऩे के कारण धान खरीदी केन्द्रों में धान की आवक अपेक्षाकृत कम देखने को मिल रही है। वहीं आगामी दिनों में फसल कटाई पश्चात धान में तेजी होगी।