कोरबा : राखड़ के आगोश में रोहिदास मोहल्ला, जनता हलाकान, पर्यावरण संरक्षण मंडल बना है उदासीन.



कोरबा 24 दिसंबर 2022 ( सेंट्रल छत्तीसगढ़ ) : इस बात से कोई भी इनकार नहीं कर सकता कि बिजली की जरूरत उनके लिए अहम पहलू नहीं है। छत्तीसगढ़ और देश के लिए काफी मात्रा में बिजली का उत्पादन कोरबा जिले में पावर प्लांट कर रहे हैं। लेकिन समस्या यह है कि यहां से उत्सर्जित होने वाली राख जनजीवन पर बुरा असर डाल रही है। कोरबा शहर के आसपास के इलाके में काफी समय से यह समस्या बनी हुई है लेकिन अब ग्रामीण क्षेत्रों में भी इसका असर साफ देखा जा रहा है। कसाइपाली के रोहिदास मोहल्ले में राख डंप करने से जनजीवन मुश्किल में पड़ गया है।

कोरबा जिले के दीपका पुलिस थाना के अंतर्गत यह इलाका आता है जहां पर काफी समय से इस तरह की हरकतें जारी हैं। खबरों के मुताबिक बिजली का उत्पादन करने वाले पावर प्लांट से निकल रही राख को सुरक्षित डंप करने के बजाए गांव के रोहिदास मोहल्ले मैं डंप किया जा रहा है। प्रतिदिन बड़ी संख्या में भारी वाहनों के जरिए फ्लाई ऐश यहां तक पहुंचती है और उसे बिना किसी दिक्कत के गांव के एक हिस्से में फैलाने का काम किया जा रहा है। इस प्रकार के कारनामे से गांव की आबोहवा खतरनाक तरीके से प्रदूषित हो रही है। ग्रामीणों ने अपने अपने तरीके से ऐसे कार्यों पर आपत्ति जताई और इसे रोकने के लिए कहा लेकिन कोई प्रभाव नहीं पड़ा। ग्रामीण बताते हैं कि मोहल्ले के आसपास का बड़ा हिस्सा जो पहले सामान्य नजर आता था अब फ्लाई ऐश आईलैंड जैसा बन गया है। जब तक नजर जाती है हर तरफ केवल लोगों को राख दिखाई पड़ती है।

इस काम में लगे सुपरवाइजर और अन्य कर्मियों का कहना है कि जैसा निर्देश प्राप्त हुआ है इसी अंदाज में इस काम को कराया जा रहा है। किसी भी कीमत पर वह अपने रिस्क में इस काम को बंद नहीं कर सकते। ग्रामीणों ने बताया कि इससे पहले तक गांव का जनजीवन बेहतर चल रहा था और यहां का पर्यावरण भी काफी अच्छा था लेकिन हाल की घटनाओं के बाद कई प्रकार के परिवर्तन दिखाई दे रहे हैं। लोगों को इस बात पर भी ऐतराज है कि प्रशासन और क्षेत्रीय पर्यावरण संरक्षण मंडल की जानकारी में यह बात लाए जाने के बाद भी उनके द्वारा किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई और ना ही राहत देने का इंतजाम किया गया। ग्रामीणों ने सुनिश्चित किया है कि वह इस मामले की शिकायत नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के स्तर पर करेंगे ताकि यहां पर जो समस्याएं पैदा हो रही हैं उन्हें रोकने का रास्ता साफ हो।

घर का सामान हो रहा खराब

लोगों ने बताया कि कोरबा शहर और बड़े हिस्से में फ्लाई ऐश के उड़ने के कारण जो समस्याएं काफी वर्षों से पेश आ रही हैं, अब वैसा ही नजारा हमारे इलाके में देखने को मिल रहा है। हवा का झोंका आने के साथ यहां की स्थिति खराब हो जाती हैं। घर के भीतर और बाहर राख की परत जम जाती है। खाने-पीने की सामग्री के अलावा दूसरे सामान इन कारणों से प्रभावित हो रहे हैं।