कोरबा : वक्फ बोर्ड की जमीन पर स्थगन आदेश के बाद भी किया जा रहा था अवैध निर्माण.. नाराज़ मुस्लिम समुदाय पहुंचा SDM कार्यालय.. SDM,तहसीलदार तथा CMO तत्काल अवैध निर्माण को तोड़ा.



कोरबा/कटघोरा 4 नवम्बर 2022 ( सेंट्रल छत्तीसगढ़ ) : कटघोरा नगर पालिका के पास वक्फ बोर्ड की जमीन पर नाजायज कब्जा किये जाने को लेकर कटघोरा मुस्लिम समुदाय आज कटघोरा अनुविभागीय कार्यालय कटघोरा पहुंचें जहां वक्फ बोर्ड के सदस्य डॉ शेख इश्तियाक व पूर्व कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष असरफ मेमन ने SDM कौशल प्रसाद तेंदुलकर को इस अवैध निर्माण से अवगत कराते हुए बताया कि इस जमीन पर दो बार शासन द्वारा स्टे लगाया गया है इसके बावजूद पास एक महिला द्वारा अवैध निर्माण किया जा रहा है। SDM से उन्होंने मतत्काल कार्यवाही की मांग की। तत्काल SDM व तहसीलदार मुख्य नगर पालिका अधिकारी के नेतृत्व में पहुंची टीम ने चल रहे निर्माण कार्यो को रुकवा दिया गया।

कटघोरा नगर पालिका कार्यालय के समीप वक्फ बोर्ड की जमीन पर स्थानीय निवासी विमला त्रिवेदी द्वारा रात और दिन में अवैध निर्माण कार्य किया जा रहा था। अवैध निर्माण को देख मुस्लिम समुदाय आज कटघोरा SDM कार्यालय पहुंच कर इसकी जानकारी SDM कौशल प्रसाद तेंदुलकर दी। उन्होंने बताया कि इस जमीन का मामला अभी न्यायाधीन है। और इस जमीन पर शासन द्वारा दो बार स्थगन आदेश जारी किया गया है। स्थगन आदेश के बावजूद भी विमला त्रिवेदी द्वारा जबरन दिन और रात अवैध निर्माण कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इसकी शिकायत तहसीलदार के पास भी की जा चुकी है। तथा नगर पालिका द्वारा भी महिला विमला त्रिवेदी को अवैध निर्माण बन्द करने नोटिस भेजा गया था लेकिन महिला द्वारा सभी शासकीय नियमों के 9 ताक पर रखकर निर्माण कार्य जारी रखा है।

वक्फ बोर्ड से सदस्य डॉ शेख इश्तियाक व पूर्व ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष असरफ मेमन ने SDM से इस मामले में तत्काल कार्यवाही की मांग की। जिसपर SDM कौशल प्रसाद तेंदुलकर व कटघोरा तहसीलदार के. के. लहरे व मुख्य नगर पालिका अधिकारी ज्ञानपुंज कुलमित्र तत्काल मौके पर पहुंचे और अवैध निर्माण कर रह महिला विमला त्रिवेदी से जब इस सम्बंध में पूछा गया की स्थगल आदेश होने के बाजूद अवैध निर्माण क्यों किया जा रहा है तो महिला विवाद करने लगी और अपने आप को 70 साल का काबिज होना बताया जाने लगा। वाद विवाद में दोनों पक्षों में विवाद शुरू होने लगा। इस पर तत्काल SDM व तहसीलदार शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए CMO को अवैध निर्माण को तोड़ने का आदेश दिया। CMO ने त्वरित कार्यवाही करते हुए जेसीबी से उक्त अवैध निर्माण को तोड़ा गया। इस दौरान पुलिस प्रशासन भी मौजूद रहा।