छत्तीसगढ़ी सिंगर की अनोखी अंतिम विदाई, ब्रेन हैमरेज से हुई मोनिका की मौत





छत्तीसगढ़ की सिंगर मोनिका खुरसैल को उनके पिता और चहेतों ने अनोखी विदाई दी। अंतिम यात्रा से पहले बेटी की याद में पिता ने संगीत संध्या रखी, जिसमें उन्होंने खुद भजन गाकर संगीत की दुनिया में नाम रोशन करने वाली बेटी को विदा किया। बुधवार को मोनिका की ब्रेन हेमरेज के बाद रायपुर के अस्पताल में मौत हो गई थी, जिसके बाद उसके पार्थिव शरीर का बिलासपुर में अंतिम संस्कार किया गया।

छत्तीसगढ़ी गीतों में अपनी अलग पहचान बनाकर कामयाबी की ओर आगे बढ़ रही मोनिका ने बहुत कम उम्र (25 साल) में परिवार के साथ संगीत प्रेमियों को अलविदा कह गई। भले ही मोनिका अब इस दुनिया में नहीं रही। लेकिन, छत्तीसगढ़ी में गाए उनके गीत हमेशा गुंजती रहेगी। दरअसल, बिलासपुर के हेमू नगर की रहने वाली सिंगर मोनिका ब्रेन हेमरेज के बाद रायपुर के निजी अस्पताल में भर्ती थीं। आर्थिक तंगी और गरीबी के चलते समय पर इलाज नहीं मिला और उसका ऑपरेशन देर से हुआ, जिसके चलते बुधवार की सुबह मोनिका की मौत हो गई।

 


Post Views: 0