छत्तीसगढ़ में CHO के साथ रेप, नाबालिग ने साथियों के साथ मिलकर घटना को दिया अंजाम





मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में शुक्रवार को कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (CHO) के साथ रेप किया गया। सबसे बड़ी बात ये है कि रेप उप स्वास्थ्य केंद्र के अंदर ही बंधक बनाकर किया गया। मुख्य आरोपी नाबालिग (17 वर्ष) है। फिलहाल पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत 3 को गिरफ्तार कर लिया है। चौथे आरोपी की तलाश की जा रही है। घटना छिपछिपी गांव के झगराखांड थाना क्षेत्र की है।

झगराखांड थाना प्रभारी दीपेश सैनी के मुताबिक, पीड़ित कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर ग्राम पंचायत पाराडोल की रहने वाली है। वह रोज 5 किलोमीटर दूर छिपछिपी के उप स्वास्थ्य केंद्र में ड्यूटी के लिए सुबह 10 बजे आती है। उप स्वास्थ्य केंद्र परिसर में ही पूर्व माध्यमिक शाला, आंगनबाड़ी और ग्राम पंचायत भवन भी है। दिवाली के त्योहार की छुट्टियां 21 अक्टूबर से स्कूल में दे दी गई है, इसलिए शुक्रवार को स्कूल और आंगनबाड़ी बंद थे। वहीं सरपंच अंगद सिंह ने बताया कि वे और सचिव भी दोपहर 12-1 के करीब कार्यालय में ताला लगाकर घर चले गए थे।

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर वहां अकेली ही बच गई थी। वैसे तो उप स्वास्थ्य केंद्र छिपछिपी में 3 लोग पदस्थ हैं, लेकिन RHO और एक अन्य स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण के लिए गए हुए थे। एडिशनल एसपी नीमेस बरैंया के मुताबिक, कल दोपहर 3 बजे तीन आरोपी उप स्वास्थ्य केंद्र में आए। इन्होंने नर्स को बंधक बना लिया। उसके हाथ-पैर बांध दिए। सिर्फ नाबालिग ने अधिकारी से बलात्कार किया। बाकी के 2 रामकुमार और ओमप्रकाश उसके सहयोगी थे। दोनों सहयोगी घटनास्थल से थोड़ी दूर काम कर रहे कोटवार के नाती किशन से मोबाइल मांगकर लाए और रेप पीड़िता का वीडियो बनाया। इसलिए पुलिस ने कोटवार के नाती को भी आरोपी बनाया है।

आरोपियों ने 2 घंटे के बाद शाम को 5 बजे रेप पीड़िता का हाथ-पैर खोल दिय और घटना की सूचना किसी को भी नहीं देने की धमकी देकर उसे वहां से जाने के लिए कह दिया। पीड़ित CHO जैसे-तैसे अपनी स्कूटी से अपने घर पाराडोल पहुंची, और परिवार को पूरी जानकारी दी। इसके बाद परिवार वालों के साथ झगराखांड थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया गया। उप स्वास्थ्य केंद्र में दिनदहाड़े इतनी बड़ी वारदात के हो जाने से पुलिस भी सकते में आ गई। अधिकारी ने आरोपियों के नाम बता दिए। चौथा आरोपी खड़गवां जनपद पंचायत के कौड़ीमार गांव का है।

आरोपी रामकुमार को लेकर पुलिस चौथे आरोपी की गिरफ्तारी के लिए कौड़ीमार गांव गई है। इधर गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है, ताकि कोई अप्रिय स्थिति नहीं बने। मौके पर आला अधिकारी पहुंचे हुए हैं। फिलहाल घटना की जांच की जा रही है।

बीजेपी थाने पहुंचकर कर रही विरोध-प्रदर्शन

इधर इस मामले में राजनीति भी तेज हो गई है। बीजेपी नेता-कार्यकर्ता झगराखांड थाने पहुंचे हुए हैं और सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। बीजेपी जिलाध्यक्ष अनिल केशरवानी ने कहा कि कांग्रेस राज में अपराध में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है। दिनदहाड़े ऐसी घटना हो जाना शर्मनाक है।



Post Views:
3