फोर्टिफाइड चाँवल को लेकर आम जनता भ्रमित। – छ.ग.का नंबर 1 न्यूज़ पोर्टल


रुपनारायण सिंह/जनसंवाद/भटगांव

भटगांव—- – छत्तीसगढ़ सरकार जनता के सेहत को लेकर जहाँ गंम्भीर हो फोर्टिफाइड चाँवल वितरण करने का लक्ष्य रखा हैं। वहीं उस चाँवल को जनता जानकारी के अभाव में प्लास्टिक का मिश्रण समझकर भ्रमित हो रहा हैं और खाने के बाजाय बेचने को मजबूर हो रहे हैं। ऐसे में शासन-प्रशासन को नागरिकों को जागरूक करने पहल करने की जरूरत हैं।
दरसल हम इसलिये कह रहें है कि बिलाईगढ़ विधानसभा के अधिकतर ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों के अंतर्गत उचित मूल्य के दुकानों से राशनकार्डधारी-हितग्राहियों को पौष्टिकता से भरा फोर्टिफाइड चाँवल प्राप्त हुआ हैं। यह चाँवल अन्य चाँवल से कुछ अलग और बड़ा हैं जिन्हें देख घरेलू महिलायें भ्रमित होकर प्लास्टिक का मिश्रण समझ रहें हैं। लगातार इस फोर्टिफाइड चाँवल को लेकर लोगों के मन में एक भ्रम और भय पैदा हो रही हैं जिनके कारण राशनकार्ड हितग्राही चाँवल को खाने के बाजाय बेचने को मजबूर हो रहें है।
वहीं बिलाईगढ़ इलाके के फूडइंस्पेक्टर ने लोगों को जागरूक करते बताया कि फोर्टिफाइड चाँवल पौष्टिको से भरपूर होने के कारण कुछ अलग जरूर दिख रहा हैं लेकिन वास्तव में देखा जाये तो यह चाँवल कई बीमारियों को दूर करने वाला हैं। जिन्हें देख आम जनता भ्रमित न हो और खाने में उपयोग करें। सरकार का लक्ष्य है कि 2023-2024 तक देश के हर नागरिक को पीडीएस के तहत फोर्टिफाइड चाँवल वितरण कर दिया जाए तांकि देश के जनता एक बीमारमुक्त सहित कुपोष्णमुक्त हो और उनके स्वास्थ्य स्वस्थ रहें।
ऐसे में अब शासन – प्रशासन को ऐसे कुछ पहल करने की जरूरत है तांकि लोग फोर्टिफाइड चाँवल को लेकर खाने के लिये किसी प्रकार की कोई भ्रमित न हो और प्लास्टिक का मिश्रण न समझें।