बाढ़ एवं जलभराव से उत्पन्न हालात से लोगों को राहत दिलाने में युद्धस्तर पर जुटा प्रशासन। – छ.ग.का नंबर 1 न्यूज़ पोर्टल


सैकड़ों लोगों को पहुंचाया गया राहत शिविरों में भोजन पानी का इंतजाम
फसल एवं मकान क्षति का सर्वे कर मुआवजा प्रकरण तैयार करने कलेक्टर के निर्देश
कलेक्टर ने स्वयं संभाली राहत एवं बचाव कार्य की कमान

बिलासपुर।जनसंवाद।तरुण कौशिक

अत्यधिक बारिश और बाढ़ की स्थिति से निपटने में जिला प्रशासन द्वारा युद्धस्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। नगर निगम क्षेत्र की निचली बस्तियों में बाढ़ प्रभावित लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाया गया हैं। वहीं फसल एवं मकान क्षति का सर्वे कर मुआवजा प्रकरण तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। कलेक्टर सौरभकुमार स्वयं राहत एवं बचाव कार्य की निगरानी कर रहे हैं। नगर निगम आयुक्त अजय त्रिपाठी सहित जिले के सभी एसडीएम एवं तहसीलदार प्रभावित इलाकों का दौरा कर लोगों को राहत पहुंचाने में जुटे हुए हैं।
एस डी एम भारद्वाज ने शहर में लिया राहत कार्यों का जायजा
बिलासपुर नगर निगम के सिरगिट्टी एवं मन्नाडोल में गोकने नाला में उफान के कारण बस्ती में जल भराव होने पर एसडीएम बिलासपुर तुलाराम भारद्वाज एवं तहसीलदार बिलासपुर अतुल वैष्णव द्वारा अपने टीम के साथ प्रभावित इलाके पर पहुंच कर स्थितियों का निरीक्षण किया गया । संबंधित क्षेत्र में बने राहत कैंप में सभी सुविधाओं की समुचित व्यवस्था कराई गई तथा संबंधित पटवारियों को उक्त इलाके में हुई सभी प्रकार की क्षतियों का आंकलन कर तत्काल विधिवत प्रतिवेदन तैयार करने के निर्देश दिए ताकि यथा संभव उचित क्षतिपूर्ति सहयोग राशि प्रभावितों को प्रदाय किया जा सके। साथ में एसडीआरएफ की टीम मौके पर प्रभावितों को कैंप तक पहुंचाने और राहत कार्य हेतु मुस्तैदी से लगी हुई है।
बिल्हा एसडीएम ने किया बाढ़ प्रभावित गांवों का दौरा
अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बिल्हा अमित गुप्ता के द्वारा मनियारी ए शिवनाथ व अरपा नदी के किनारे स्थित गाँव मोहदा एअट्टर्रा ए पोसरी ए अमेरीकापाए उड़नतालए अमलडीहाए मंगला का अपने अधीनस्थ कर्मचारियों के साथ दौरा किया गया ।मौक़े पर पटवारी ए कोटवारए सरपंच व सचिव उपस्थित मिले । उन्होंने पंचायत भवन व स्कूल में बनाये गये अस्थायी शिविर का भी निरीक्षण किया गया । बढ़ते जल स्तर पर सतत निगरानी रखने व प्रभावितों के लिये सभी प्रकार की आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिया गया । जनहानि ए पशु हानि ए फसल क्षति ए मकान क्षति का आंकलन कर भुगतान करने का निर्देश तहसीलदार व पटवारियों को दिया गया ।
बाढ़ में फंसे लोगों को होमगार्ड की मदद से सुरक्षित निकाला गया
होमगॉर्ड की एस डी आर एफ टीम ने बाढ़ में फंसे लोगों को बाहर सुरक्षित निकालने में महत्वपूर्ण रोल अदा किया। सिरगिट्टी के देवार पारा मोहल्ले में गोकने नाला में अत्यधिक पानी के कारण पूरी बस्ती के लोग बाड़ में घिर गए थेएजिनको एस डी आर एफ बिलासपुर और परसदा एसडी आर एफ के जवानों द्वारा संयुक्त रूप से बाड़ में फंसे 37 लोगो को सुरक्षित बाहर निकाला गया।देवार पारा में एक गर्भवती महिला को भी जो घर में फसी थी को उसके परिवार सहित सुरक्षित बाहर निकाला गया।पचपेड़ी थाना के ग्राम जोंधरा अंतर्गत शिवनाथ नदी की बाढ़ में फंसे दो परिवार के 6 लोगों को एसडीआरएफ होमगार्ड बिलासपुर की टीम द्वारा सुरक्षित बाहर निकाला गया।
निगम कर्मियों की छुट्टी निरस्तए व्यवस्था बनाने निगम ने झोंकी ताकत
नगर निगम आयुक्त अजय त्रिपाठी ने बताया की शहर में बाढ़ एवं जलभराव की हालात को देखते हुए सभी कर्मियो की छुट्टी निरस्त कर दी गई है। सबको राहत एवं बचाव के कार्य में झोंक दिया गया है। गोेकने नाला में बाढ़ शहर के लिए कहर साबित हुई है। सकरीएउसलापुर मन्नाडोल में जलभराव का प्रमुख कारण बना है। करीब 3 सौ से ज्यादा प्रभावित लोगों को राहत शिविरों में ठहराया गया है। सभी सामुदायिक भवनों और स्कूलों को राहत शिविर बनाए गए हैं। भोजन पानी और सोने की व्यवस्था शिविर स्थलों में की गई है। बड़े .बड़े जेसीबी मशीनों से अवरोधों को हटाकर और लाइनिंग बनाकर जलभराव को दूर किया जा रहा है। अरपा भैंसाझार परियोजना से भी पानी छोड़ने की संभावना को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया गया है। विशेषकर मंगलाए कुदुदंडए चांटापारा और गोंडपारा टीम तैनात कर मुनादी कराई गई है। चकरभांठा एयरपोर्ट के रनवे से भी मशीन से पानी खींचकर बाहर किया गया।