बिजली बिल हाफ करने का वादा करने वाले आज उपभोक्ताओं की जेबों में डाका डाल रहें है। : कौशिक


प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अब तक बिजली की दरों में 4 बार बढ़ोतरी की है

बिलासपुर।जनसंवाद।तरुण कौशिक
छत्तीसगढ़ विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष/ पूर्व नेता प्रतिपक्ष विधायक-बिल्हा धरमलाल कौशिक ने बिजली की दरों में लगातार प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा की जा रही बढ़ोतरी पर कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने से पहले बिजली बिल हाफ करने का बड़े-बड़े दावे/वादे किये थे। सत्ता में आने के बाद प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अब तक चार बार बिजली की दरों में बढ़ोतरी की है। 5 महीना पहले ही बिजली की दरों में 12 से 15 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली की दरों में वृद्धि की थी। और एक बार फिर बिजली की दरों में 30 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली की दरों में वृद्धि करके प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने यह साबित कर दिया है कि उन्हें प्रदेश की जनता के हितों की जरा भी चिंता नहीं है।
कौशिक ने कहा कि बिजली की दरों में लगातार वृद्धि करके प्रदेश की जनता से बिजली बिल हाफ करने का वादा करने वाली प्रदेश की कांग्रेस सरकार आज कोयले का बहाना बनाकर बिजली दरों में 30 पैसे प्रति यूनिट वृद्धि कर प्रदेश की जनता से छल/प्रपंच कर उनके जेबों में डकैती डालने का कार्य कर रही है। हमेशा महंगाई का रोना रोने वाली प्रदेश की कांग्रेस सरकार प्रदेश की जनता को बताएं कि बिजली की दर में बढ़ोतरी क्यों किया है? उन्होंने कहा कि पिछले 5 माह में बिजली की दरों में 40% तक की वृद्धि की है। बिजली के दरो में वृद्धि का सबसे अधिक भार गरीब जनता पर पड़ेगा। बिजली की दरों में वृद्धि की वजह से पहले 400 यूनिट का जो बिल 913 रुपये आते थे वह 120 रूपए बढ़कर अब 1033 आयेगा। कहीं बिजली की दरों में वृद्धि का कारण हिमाचल प्रदेश में होने वाला विधानसभा चुनाव तो नहीं है। देश के अन्य राज्यों में जब-जब भी चुनाव होता है तब तब कभी सीमेंट के दामों में वृद्धि होती है तो कभी बिजली की दरों में वृद्धि की जाती है। इससे मिलने वाला अतिरिक्त पैसा प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कांग्रेस के मिस्टर एटीएम बन कर चुनावी राज्यों में इन पैसों को खर्च करते हैं। उन्होंने कहा कि भूपेश बघेल जी गजब के कलाकार है! जिन्होंने वादा बिजली बिल हाफ का किया था, अब जनता की आखों मे धुल झोंक कर जनता की जेबें साफ कर रहें है।