महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन से ही पूरा होगा महिला सशक्तिकरण का अभियान – सीइओ



महिलाओं के आर्थिक स्वावलंबन से ही पूरा होगा महिला सशक्तिकरण का अभियान – सीइओ
महिला स्व सहायता समूहों के वित्तीय प्रबंधन पर एक दिवसीय प्रशिक्षण सह कार्यशाला संपन्न

बैकुण्ठपुर दिनांक 29/12/22 – छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण आजीविका मिषन के तहत कोरिया एंव एमसीबी जिले में कार्यरत क्लस्टर लेबल फेडरेषन के पदाधिकारियों को वित्तीय प्रबंधन की जानकारी देने के लिए एक दिवसीय प्रषिक्षण सह कार्यषाला का आयोजन किया गया। जिला पंचायत कोरिया के मंथन कक्ष मंे आयोजित इस प्रषिक्षण कार्यषाला में बिहान से जुड़े एमआईएस लेखापाल और पीआरपी भी सम्मिलित हुए। प्रषिक्षण के दौरान इन महिलाओं को मानदेय प्रबंधन, अनुदान राषि प्रबंधन जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर बिहान के जिला वित्तीय प्रबंधक ने जानकारी देते हुए वित्तीय दस्तावेजीकरण के बारे में विस्तार से समझाया। इस अवसर पर बिहान के अंर्तगत विभिन्न स्तरों पर कार्य कर रही महिलाओं को संबोधित करते हुए जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता जैन ने कहा कि हम महिलाओं के सषक्तीकरण की बात तभी कर सकते हैं जब हर परिवार की महिला स्वयं आर्थिक सक्षम हो जाए। इसके लिए आप सभी को बिहान के माध्यम से विभिन्न गतिविधियों में जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। इसकी सफलता आपके परिश्रम और लगन पर निर्भर करती है। जिले में 60 हजार से ज्यादा महिलाएं विभिन्न समूहों, क्लस्टरों और फेडरेषन में बेहतरीन कार्य कर रही हैं और अपने तरक्की के साथ अन्य महिलाओं के लिए भी आर्थिक समृद्धि का कार्य कर रही हैं। जिला पंचायत सीइओ ने उपस्थित केडर की महिलाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आप सभी को आने वाले समय में स्वयं का वित्तीय प्रबंधन देखना है इसके लिए आपको आज प्रषिक्षण प्रदान किया जा रहा है। महिलाओं के अंदर प्रबंधन का गुण प्रकृति से ही मिला हुआ है इसलिए ही आप सभी घरेलू दायित्वों के अलावा बिहान में जुड़कर अलग अलग स्वरोजगार की गतिविधियों को बखूबी चला रही हैं। आप सभी के बेहतर कार्य से पूरे समाज मे एक बेहतर संदेष जाएगा और महिलाएं जब आर्थिक रूप से सक्षम होंगी तभी महिलाओं के सषक्तीकरण का यह कार्य सही मायने में पूरा माना जाएगा।  
      प्रषिक्षण सह कार्यषाला के दौरान जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि स्वयं की सहायता के साथ आगे बढ़ने के लिए ही महिलाओं के स्व सहायता समूहों का गठन किया गया है और आप सभी को पूरी लगन और मेहनत के साथ स्वरोजगार की दिषा में आगे बढ़ना होगा। बिहान की पूरी टीम आपकी मदद के लिए तैयार है। जिला पंचायत सीइओ ने कार्यशाला में उपस्थित अलग अलग क्लस्टर की महिलाओं के साथ दो तरफा संवाद करते हुए उनके कार्य के दौरान आने वाली समस्याओं और स्व सहायता समूहों के गठन और तरक्की के लिए किए गए संघर्ष भरे अनुभवों की जानकारी भी प्राप्त की। नागपुर क्लस्टर की श्रीमती इंजोरिया बाई और जनकपुर फेडरेशन की मिनी माता सम्मान प्राप्त श्रीमती नीलिमा चतुर्वेदी ने अपने संगठन की शुरुआत से लेकर अब तक किए गए परिश्रम और कठिनाइयों के बारे में मार्मिक अनुभव साझा किए। जिला पंचायत सीइओ ने अन्य उपस्थित महिलाओं को श्रीमती इंजोरिया बाई और श्रीमती नीलिमा चतुर्वेदी के अनुभवों और हार ना मानने वाले जज्बे से प्रेरणा लेकर बिहान में जुड़कर प्रतिमाह नियमित बचत और बैठक कर अपने स्वावलंबन के लिए मन लगाकर कार्य करने का आग्रह किया। विदित हो कि नागपुर क्लस्टर और जनकपुर क्लस्टर से जुड़े महिलाओं के फेडरेषन समूह प्रतिमाह लाखों रूपए का स्वरोजगार कर रहे हैं। एक दिवसीय प्रषिक्षण सह कार्यषाला में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिषन बिहान से जुड़े सभी सीएलएफ, पीआरपी, बीपीएम और जिला स्तरीय प्रबंधन उपस्थित रहे।