मां लकवाग्रस्त, बहन की मौत, अब भाई ने लगाई फांसी




बिलासपुर में युवक की लाश पेड़ पर फंदे से लटकती मिली है। शव के पास ही युवक की बाइक खड़ी थी। युवक का शव पेड़ पर गमछे से लटक रहा था। पुलिस की जांच में पता चला कि, युवक की मां लकवाग्रस्त है और छोटा भाई मानसिक रूप से कमजोर है। कोरोना से उसकी बहन की भी मौत हो गई थी। जिसके बाद से वह मानसिक तनाव में था। मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है।

सरकंडा पुलिस को मंगलवार शाम को जानकारी मिली कि छठघाट के जंगल में युवक की लाश पेड़ पर लटकी है। खबर मिलते ही पुलिस वहां पहुंच गई। इस दौरान युवक का शव गमछे के सहारे पेड़ पर लटक रहा था। पास ही बाइक भी खड़ी थी। पुलिस ने बाइक की तलाशी ली, तब उसमें से कुछ दस्तावेज मिले, जिसके आधार पर युवक की पहचान राजकिशोर नगर निवासी आलोक गुप्ता पिता कृष्णकुमार गुप्ता (28) के रूप में हुई। वह मूलत: सरगांव का रहने वाला था।

होटल में काम करता था युवक
युवक की बाइक में सूर्या होटल के नाम से परची मिली। इसके बाद सब इंस्पेक्टर मनोज पटेल ने सूर्या होटल के मैनेजर से पूछताछ कर जानकारी जुटाई, तब पता चला कि आलोक वहां होटल में काम करता था। इस दौरान पुलिस ने उसके परिवार वालों को घटना की जानकारी दी। खबर मिलते ही उसके परिजन घटनास्थल पहुंच गए। पुलिस ने शव को फंदे से उतार कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया था।

मानसिक तनाव में आकर की खुदकुशी
पुलिस ने बताया कि युवक के फांसी लगाकर आत्महत्या करने की आशंका है। युवक के परिजनों से पूछताछ में पता चला कि करीब दस साल पहले उसके पिता की मौत हो गई थी। आठवीं कक्षा तक पढ़े आलोक ही परिवार में एकमात्र कमाने वाला था। उसकी मां लकवाग्रस्त है और भाई मंदबुद्धि है। उसे अपनी छोटी बहन सिद्धी (20) से बहुत लगाव था। पिछले साल कोरोना से उसकी मौत हो गई थी। इसके बाद वह मानसिक तनाव में था। बताया जा रहा है कि इसी वजह से युवक ने आत्महत्या की है।



Post Views:
0