रायपुर जिला के धरसींवा विधानसभा के ग्राम माठ में भेंट मुलाकात



गोधन न्याय योजना में गोबर विक्रेताओं को अब तक 201 करोड़ रुपये का भुगतान : मुख्यमंत्री श्री बघेल

छत्तीसगढ़ गोबर खरीदी करने वाला देश का पहला राज्य

माठ में क्षेत्रवासियों को कई विकास कार्यों की सौगात

गनियारी में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की घोषणा

सारागांव में खुलेगी जिला सहकारी बैंक की शाखा
माठ, मुरा, पिकरीडीह, बिठिया, मुड़पार और तिल्दाडीह में लिफ्ट इरिगेशन की स्वीकृति

मढ़ही और जारा-कुम्हारी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की घोषणा

पेंड्रा वन में डॉ खूबचंद बघेल की मूर्ति लगाने की घोषणा

रायपुर, 22 जनवरी 2023/मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा है कि गोधन न्याय योजना के तहत गोबर विक्रेताओं से एक लाख क्विंटल गोबर की खरीदी की गई है और उनको अब तक 201 करोड़ रूपए का भुगतान किया गया है। गोबर से वर्मी कम्पोस्ट तैयार करने में लगभग 80 हजार महिलाओं को रोजगार भी मिल रहा है। छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जहां गोबर की खरीदी हो रही है। गोधन न्याय योजना गांव में सामाजिक, आर्थिक परिवर्तन का माध्यम बन गई है। मुख्यमंत्री आज रायपुर जिला के धरसींवा विधानसभा के ग्राम माठ में भेंट मुलाकात के दौरान ग्रामीण के सम्बोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने भेंट-मुलाकात में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य शासन की विभिन्न योजनाएं जो आम जनता के लिए बनाई गई हैं, उसका लाभ उन्हें मिल रहा है या नहीं, यह जानने के लिए मैं आया हूं। आज रायपुर जिले में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरुआत धरसीवा विधानसभा से हो रही है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि हमने सभी वर्गों के लिए योजनाएं बनाई हैं। सबसे पहले हमने किसानों का ऋण माफ किया है, ऋण माफी की बात पर सभी लोगों ने हाथ उठाकर ऋण माफ होने की अपनी सहमति जताई। मुख्यमंत्री ने कहा कि धान के साथ साथ हम कोदो, कुटकी भी समर्थन मूल्य में खरीद रहे हैं। धान खरीदी में देश में छतीसगढ़ का पंजाब के बाद दूसरा स्थान है, अब तक 103 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई है। छत्तीसगढ़ में लगभग 23 लाख किसान धान बेच कर लाभांवित हुए हैं। पहले केवल 15 लाख किसान ही धान बेचते थे, पहले धान का रकबा 22 लाख हेक्टेयर था, उसमे भी इजाफा हुआ है। इस अवसर पर धरसींवा विधायक श्रीमती अनिता योगेंद्र शर्मा, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन सहित अनेक जनप्रतिनिधि, बड़ी संख्या में ग्रामीण एवं अधिकारी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार गाड़ा-गाड़ा धान खरीदना चाहती है, धान से इथेनॉल बनाना चाहती है, इसके लिए केंद्र सरकार से अनुमति नहीं मिला है। धान से बने इथेनॉल का रेट तय नहीं हुआ है ये सभी व्यावहारिक दिक्कत है। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि गन्ने से इथेनॉल बनाने का प्लांट कवर्धा में प्रारंभ होने वाला है। कोंडागांव में मक्का से इथेनॉल संयंत्र भी जून में प्रारंभ हो जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार अनुमति दे तो हम किसानों से एक-एक दाना धान की खरीदी करेंगे। उन्होंने इस अवसर पर ग्राम पंचायत गनियारी में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल, ग्राम पंचायत मढ़ी और जारा-कुम्हारी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं ग्राम सारागांव में जिला सहकारी बैंक की शाखा खोलने सहित कई घोषणाएं की।

भूमिन टंडन ने गोबर बेचकर की बेटे और बेटी की शादी

मुख्यमंत्री को भेंट मुलाकात कार्यक्रम में गोधन न्याय योजना से लाभान्वित हितग्राही भूमिन टंडन ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्होंने इस योजना का लाभ लेकर एक लाख रुपए की कमाई की और इस पैसे को बेटे और बेटी की शादी में खर्च किया। हितग्राही ने बताया कि उन्होंने एक लाख 35 हजार का गोबर बेचा। घर में डेयरी बनाया है, लेकिन दो साल से बंद होने के कगार में था, लेकिन गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर बेचने से पैसा मिल रहा है। अब उनका डेयरी बंद नही होगा। भेंट मुलाकात में माठ निवासी दुरबति यादव ने बताया कि गोबर बेचकर उन्होंने 70 हजार रुपए की आमदनी की है। मुख्यमंत्री ने हंसते हुए कहा कि यादव जी (आपके पति को) को आपने तो काम पर लगा दिया है, इस पर दुरबति ने कहा कि यादव जी के लिए कुछ खरीद लूंगी।

जीवन ने धान बेचकर खरीदा खेत, नाम रखा“बोनस खेत“

भेंट मुलाकात कार्यक्रम में आये श्री जीवन लाल पारधी ने बताया कि उनकी 27 एकड़ जमीन है, वे खेती-किसानी का काम करते हैं। उनका सभी कर्ज माफ हो गया है। श्री जीवन ने बताया कि वे 900 कट्टा धान बेचे है, धान बेचते ही 3 दिन पैसा आया। योजना से लाभ लेकर आधा एकड़ खेत खरीदा है, इसी खेत का नाम बोनस खेत रखा है।

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल के विद्यार्थियों ने फ़र्राटेदार अंग्रेजी में मुख्यमंत्री से की बात

स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल तिल्दा-नेवरा की कक्षा 12वीं की छात्रा मुस्कान वर्मा ने फ़र्राटेदार अंग्रेजी में मुख्यमंत्री से बात करते हुए बताया कि दूसरे स्कूल के मुकाबले आत्मानंद स्कूल में पढ़ने से पैसे की बचत हो रही है। हमारे स्कूल में सभी प्रकार की सुविधाएं, लैब लाइब्रेरी और उत्कृष्ट शिक्षक मौजूद हैं। दूसरी छात्रा ने बताया कि वो स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल तिल्दा से पढ़कर 12वीं पास होकर नर्सिंग के कोर्स में प्रवेश ली है, कोर्स की फ़ीस लगभग 2 लाख रुपए है। पिता की मृत्यु कोरोना काल में हो गई है, छात्रा ने मुख्यमंत्री से सहायता मांगी। इस पर मुख्यमंत्री ने एक लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की। स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल तिल्दा-नेवरा, 12वीं कक्षा की छात्रा वर्षा यादव ने मुख्यमंत्री से पूछा कि आपकी सफलता में किसकी भूमिका रही, शिक्षक या आपके अनुभव की ? मुख्यमंत्री ने कहा बिना गुरु के ज्ञान नहीं मिलता।

माठ में क्षेत्रवासियों को कई विकास कार्यों की सौगात

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा रायपुर जिले के धरसींवा विधानसभा अंतर्गत ग्राम पंचायत माठ में आयोजित भेंट मुलाकात कार्यक्रम में अनेक घोषणाएं की। उन्होंने ग्राम माठ में पूर्व माध्यमिक शाला का हाईस्कूल में उन्नयन, ग्राम पंचायत माठ, मुरा, पिकरीडीह, बिठिया, मुड़पार और तिल्दाडीह में लिफ्ट इरिगेशन, प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति माठ में अहाता निर्माण, ग्राम खौली से भड़हा-बुडगहन-फरहदा होते हुए ग्राम कोसरंगी तक मार्ग चौडीकरण को राम वनगमन पथ के अंतर्गत स्वीकृति, ग्राम पंचायत फरहदा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्टाफ की स्वीकृति, ग्राम पंचायत गनियारी में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की घोषणा, ग्राम पंचायत बरौंडा माध्यमिक शाला को हाई स्कूल के रूप में उन्नयन, ग्राम पंचायत मढ़ही और जारा-कुम्हारी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की घोषणा, ग्राम नकटी कुम्हारी में पुरानी बस्ती से नई बस्ती तक पहुंच मार्ग, खरोरा नगर पंचायत मे 1.92 करोड़ रुपए की लागत से गौरव पथ निर्माण, ग्राम सारागांव में जिला सहकारी बैंक की शाखा, प्राथमिक स्वास्थ केंद्र सिलयारी का नाम स्व. श्रीमती इंदिरा बनीराम वर्मा के नाम से करने की घोषणा, ग्राम पंचायत मटिया में सामुदायिक भवन निर्माण, आई.टी.आई का नामकरण स्व. श्रीमति गुणवंतीन बाई बघेल के नाम से करने, पेंड्रा वन में डॉ खूबचंद बघेल की मूर्ति लगाने की घोषणा मुख्यमंत्री ने की।