विशेष लेख,दिल की बीमारी से मासूमों का जीना था मुश्किल, डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना ने दिया नया जीवन


अब चहक रही है कोमल और मुस्कुरा रही है पायल

मुख्यमंत्री ने बच्चियों संग खिंचवाई फोटो, गिफ्ट देकर उन्हें किया सम्मानित

रायपुर, 13 सितंबर 2022/
रायगढ़ के सोनबरसा की रहने वाली कोमल चौहान दूसरी कक्षा में पढ़ती है। बार बार बीमार रहने से कोमल के घरवाले परेशान रहते थे। इसी तरह से चपले गांव की रहने वाली पायल पटेल भी बीमारी की वजह से हंसना मुस्कुराना भूल गई थी। इन दोनों मासूमें के परिजनों को समझ नहीं आ रहा था कि वो क्या करें।

दरअसल पायल और कोमल को दिल की बीमारी थी जिसे डॉक्टर समझ नहीं पा रहे थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम स्कूलों में जाकर बच्चों की स्वास्थ्य जांच करती है, इसी जांच में ये पता चला कि दोनों बच्चियों के दिल में छेद है जिससे उनका विकास नहीं हो पा रहा है और वो बीमार रहती हैं। इसके बाद कोमल और पायल को डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना के तहत रायपुर के बड़े अस्पताल में भर्ती कराया गया और दोनें का नि:शुल्क इलाज कराया गया. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा शुरू की गई डॉ खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना की वजह से ही आज कोमल और पायल जैसी बच्चों की जान बच रही है और वो अपना नया जीवन शुरू कर पा रहे हैं।

आज जब बच्चों के परिजनों को पता चला कि मुख्यमंत्री खरसिया के चपले गांव में आ रहे हैं तो दोनों बच्चियां भी परिजनों के साथ मुख्यमंत्री से मिलने पहुंचीं। मुख्यमंत्री ने न सिर्फ इन बच्चियों के साथ फोटो खिंचवाई बल्कि इन्हें गिफ्ट देकर सम्मानित भी किया।