सर्वोच्च सदन को अपमानित कर रही कांग्रेस सरकार-डॉ. रमन

CG News Today



रायपुर।  विधानसभा में दूसरे दिन भी आरक्षण का मुद्दा सदन में गुंजा। बिल को लेकर पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह ने कहा कि सरकार यह बताने में असफल है कि क्वांटिफाइबल डाटा आयोग के आंकड़े सदन में क्यों पेश नहीं किया गया।  वही सर्वोच्च सदन को अपमानित करने का काम कांग्रेस की सरकार कर रही है।  गवर्नर को कानून सम्मत प्रश्न पूछने का अधिकार है।  गवर्नर के पास असीमित अधिकार है।  जिस प्रकार रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन हो रहा है, यह इतिहास में पहली बार है कि सत्ता पक्ष के लोग इस तरह आंदोलन में लगे हुए है।

आरक्षण मामला : पीसीसी चीफ मोहन मरकाम ने कहा- जन अधिकार रैली को 70 समुदायों के प्रमुखों ने दिया समर्थन

सरकार आरक्षण के मुद्दे पर गोल-गोल बातें कर रही है।  सरकार चाहती है कि यह मामला फिर से कोर्ट में चला जाए।  इस मामले में संसदीय कार्य मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा कि छत्तीसगढ़ के विधानसभा ने सर्वसम्मति से आरक्षण का विधेयक पारित किया है। कुछ खंडों पर जरूर प्रतिपक्ष का संशोधन था, लेकिन सर्व सम्मति से यह विधेयक पारित हुआ है ।

छत्तीसगढ़ की जनता का लगातार यह दबाव है कि हमने जो यह विधेयक सदन में पारित किया है, उसको महामहिम के यहां लंबित नहीं होना चाहिए।

आरक्षण मुद्दे पर सदन में हंगामा, कार्रवाई कल तक के लिए स्थगित

जिस तरह पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का बयान और भाजपा का जिस तरह से बयान आता है।  उसके कार्यालय से जो विज्ञप्ति जारी होता है | उसी प्रकार राजभवन से भी विज्ञप्ति जारी होता है।

लोग यह समझ रहें है कि राज्यपाल शायद भाजपा के दबाव में दस्तखत करने में अपने आप को असहज पा रही है। इसलिए हम सभी चाहते हैं कि सर्वसम्मति से सदन में पारित इस बिल पर कानून बने।