साक्षरता सप्ताह के समापन पर 58 विजयी प्रतिभागी बच्चों को किया गया सम्मानित।


सरायपाली/जनसंवाद/विकास नंद/
अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर आयोजित साक्षरता सप्ताह (08-14 सितम्बर 2022) पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिता के महासमुंद ब्लॉक के विजयी प्रतिभागियों को कलेक्टर निलेशकुमार क्षीरसागर ने आज साक्षरता सप्ताह समापन पर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। कलेक्टर क्षीरसागर ने सभी प्रतिभागियों को बधाई और शुभकामनाएं दी। साक्षरता सप्ताह के दौरान आयोजित निबंध प्रतियोगिता में नवीन कुमार ध्रुव (प्रथम), कु. पुष्पा साहू (द्वितीय), मेहंदी प्रतियोगिता के प्रतिभागी कु. चंचल देवदास (प्रथम) गैंदलाल (द्वितीय), चित्रकला के प्रतिभागी तुषार देवांगन (प्रथम), जीतेश यादव (द्वितीय) रंगोली के प्रतिभागी कु. भूमिका कहार (प्रथम) मुस्कान निषाद (द्वितीय) एवं अनुदेशक कु. अर्पिता सोनी कु. प्रीति साहू नवसाक्षर कुमारी बाई वैष्णव, हीराबाई साहू रही। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एस. आलोक, अपर कलेक्टर ओ.पी. कोसरिया, दुर्गेश वर्मा, एसडीएम भागवत जायसवाल, जिला शिक्षा अधिकारी एस. चन्द्रसेन, जिला मिशन समन्वयक समग्र अशोक शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
गौरतलब हो साक्षरता सप्ताह अन्तर्गत पहले दिन शैक्षणिक संस्थाओं में साक्षरता रैली, दूसरे दिन साक्षरता संगोष्ठी/परिचर्चा, तीसरे दिन शैक्षणिक संस्थाओं में नव भारत साक्षरता कार्यक्रम पर केन्द्रित, चित्रकला, मेहंदी एवं रंगोली का आयोजन। चौथे दिन महिला साक्षरता पर केन्द्रित कार्यक्रम, पांचवे दिन महाविद्यालय व विद्यालयीन छात्र छात्राओं के लिए भाषण, निबंध पोस्टर एवं छठवें दिन ‘‘चित्र देखो और लिखो कार्यक्रम‘‘ का आयोजन किया गया। साक्षरता सप्ताह समापन कार्यक्रम में विकासखण्ड महासमुन्द एवं बागबाहरा के 12-12 प्रतिभागी, पिथौरा के 13 प्रतिभागी, बसना 08 प्रतिभागी एवं सरायपाली के 13 प्रतिभागी इस प्रकार कुल 58 प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम का संचालन रेखराज शर्मा एवं आभार प्रदर्शन एस.चन्द्रसेन जिला शिक्षा अधिकारी महासमुन्द ने किया। उक्त कार्यक्रम को सफल बनाने में गजेन्द्र धु्रव विकासखण्ड परियोजना अधिकारी महासमुन्द, खेमीन साहू, नोडल अधिकारी विकासखण्ड साक्षरता मिशन समिति, भारती सोनी, महेश्वरी साहू, शिक्षिका मयंक दुबे, धनेश यादव, वेद प्रकाश साहू सहित समस्त विकासखण्ड के विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, विकासखण्ड परियोजना अधिकारी, विकासखंड स्त्रोत केन्द्र समन्वयक समग्र शिक्षा, नोडल अधिकारी साक्षरता का योगदान रहा।