सीइओ श्रीमती नम्रता जैन ने किया बैकुंठपुर जनपद पंचायत अंतर्गत विभिन्न गौठानों का निरीक्षण




पदीय दायित्वों के प्रति लापरवाह आजीविका मिशन की पीआरपी को पद से पृथक करने के निर्देश

बैकुण्ठपुर दिनांक 29/12/22 – जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता जैन ने बैकुंठपुर जनपद पंचायत के अंतर्गत विभिन्न ग्राम गौठानों को निरीक्षण किया और संबंधितों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए। बुधवार को अपने निरीक्षण भ्रमण के दौरान जिला पंचायत सीइओ ने सबसे पहले चेरवापारा ग्राम पंचायत में निर्मित बहु गतिविधि केंद्र का अवलोकन किया। यहां वर्मी कंपोस्ट बना रहे महिला स्व सहायता समूह के सदस्यों से चर्चा करके उन्होंने ग्राम पंचायत में हो रही गोबर खरीदी और ऑनलाइन एंट्री की जानकारी प्राप्त की। महिलाओं ने बताया कि ग्राम पंचायत में आबादी दूर होने के कारण गोबर दूसरी जगह पर खरीदकर यहां लाया जाता है। खुले में पड़े हुए गोबर की मात्रा और आनलाइन दर्ज मात्रा में अंतर ना होने की समझाइष देते हुए उन्होने खुले में पड़े हुए गोबर को लो कास्ट पिट बनाकर खाद बनाने के निर्देष दिए। ग्राम पंचायत की महिलाओं द्वारा गोबर से खाद बनाए जाने की प्रक्रिया का अवलोकन करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने उन्हे साठ चालीस के अनुपात के अनुसार जैविक अपषिष्ट का उपयोग का उपयोग अनिवार्य तौर पर करने के निर्देष दिए। इसके साथ ही उन्होंने बने हुए वर्मी खाद के उठाव और महिलाओं के समूह द्वारा बेचे गए वर्मी खाद के भुगतान की जानकारी प्राप्त की। मौके पर उपस्थित राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के प्रबंधक को महिलाओं के लंबित भुगतान पर तीन दिवस में कार्यवाही कर प्रतिवेदन देने के निर्देश दिए जिला पंचायत सीइओ ने पेवर ब्लाक निर्माण इकाई का अवलोकन कर उसकी तकनीकी दिक्कते दूर कर जल्द उत्पादन प्रारंभ कराने के निर्देश दिए।
       यहां उन्होने महिलाओं से बातचीत करके गोबर बेचने वाले पशुपालकों की जानकारी प्राप्त करने के बाद उपस्थित जनपद पंचायत सीइओ को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में नियमित रूप से गोबर बेचने वाले पशुपालकों का सत्यापन ग्राम पंचायत के माध्यम से कराएं ताकि पारदर्शिता बनी रहे। महिलाओं को और बेहतर तरीके से प्रशिक्षित करने के लिए उन्होंने यंग प्रोफेशनल का दौरा कार्यक्रम नियत कर सभी ग्राम पंचायतों में नियमित भ्रमण के निर्देश दिए। इसके बाद जिला पंचायत सीइओ ने ग्राम पंचायत खरवत के ग्राम गौठान का जायजा लिया। यहां स्व सहायता समूह से बातचीत के दौरान महिलाओं ने बताया कि पीआरपी दीदी के द्वारा नियमित रूप से आकर समूह का मार्गदर्शन नहीं किया जा रहा है। इस पर उन्होंने पीआरपी की सेवाएं तत्काल समाप्त करने के निर्देश दिए। यहां उपस्थित ब्लाक प्रोग्राम मैनेजर को नियमित गौठानों का भ्रमण कर महिलाओं को प्रशिक्षण देने व प्रति सप्ताह प्रगति प्रतिवेदन देने के निर्देश भी दिए। यहां बने हुए षेड में मौसम के अनुसार मशरूम उत्पादन करने के लिए समूह की दीदियों को प्रोत्साहित किया। उनके लिए संसाधन और प्रशिक्षण की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। इस भ्रमण के दौरान जनपद पंचायत बैकुंठपुर के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री विनय कश्यप, जिला पंचायत के सहायक परियोजना अधिकारी श्री घनश्याम सिंह, महात्मा गांधी नरेगा के सहायक परियोजना अधिकारी, बिहान के जिला प्रबंधक सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी व ग्राम पंचायत सचिव उपस्थित रहे।