स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पं गंगा प्रसाद बाजपेयी राजकीय सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन


बिलासपुर। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी पं गंगा प्रसाद बाजपेयी का पूरे राजकीय सम्मान के साथ आज अंतिम संस्कार किया गया। राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा में लिपटाकर पुलिस प्रशासन ने गाजे-बाजे के साथ उनकी अंतिम यात्रा निवास स्थान विकास नगर 27 खोली बिलासपुर से निकाली । जो मुंगेलीनाका, कचहरी, नेहरू चौक होते हुए अपने भव्य स्वरूप के साथ सरकंडा मुक्तिधाम पहुंची । मुखाग्नि बड़े पुत्र रिटायर्ड न्यायाधीश चन्द्र भूषण बाजपेयी ने दी। मुखाग्नि से पूर्व पुलिस प्रशासन द्वारा सरकंडा मुक्तिधाम में गाड आफ आनर दिया गया। छत्तीसगढ़ शासन के प्रतिनिधि के रूप में कलेक्टर बिलासपुर व एसडीएम बिलासपुर ने पुष्पचक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की।
विकास नगर 27 खोली स्थित निवास एवं सरकण्डा मुक्तिधाम में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के अंतिम दर्शन करने लोगों का तांता लगा रहा। राजनीतिक लोगों में संसदीय सचिव श्रीमती रश्मि सिंह, पर्यटन मण्डल अध्यक्ष अटल श्रीवास्तव, विधायक क्रमशः धर्मजीत सिंह, शैलेष पाण्डेय,अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकार, बिलासपुर कापरेटिव बैंक के अध्यक्ष प्रमोद नायक, महापौर रामशरण यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष अरूण सिंह, नेता प्रतिपक्ष नगर निगम शेख नजीरूद्दीन, कांग्रेस जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी, योग आयोग के सदस्य रविन्द्र सिंह, राजेन्द्र धीवर उपाध्यक्ष मतस्य बोर्ड, राजेन्द्र शुक्ला अध्यक्ष मंडी बोर्ड, न्यायमूर्ति टी पी शर्मा, न्यायमूर्ति आर सी एस सामंत, ज़िला एवं सत्र न्यायाधीश अशोक कुमार साहू, पूर्व सांसद कमला मनहर, पूर्व सांसद गोविन्द मिरी, पूर्व सांसद श्रीमती मैक्लाउड, पूर्व सांसद लखन लाल साहू, पूर्व विधायक चुरावन मंगेशकर, वीरेन्द्र पाण्डेय, सेनि. आईएएस रात्रे जी ,अशोक अग्रवाल, शेखर मुदलियार, विश्वंभर गुलहरे, राजा पांडेय, बंशीलाल गौराहा, वीरेन्द्र गौराहा
वीरेन्द्र पाण्डेय, अशोक अग्रवाल, विजय पाण्डेय, पूर्व महापौर द्वय राजेश पाण्डेय एवं वाणी राव, शिवा मिश्रा सहित बहुतायत में कांग्रेस पार्टी एवं सेवादल के पदाधिकारी, अधिवक्ता गण, शासकीय अधिकारी व कर्मचारी, समाजसेवी, सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि, व्यापारी, ब्राम्हण समाज सहित सभी समाज के प्रतिनिधि गण, नगर के गणमान्य नागरिकों ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी।
निवास स्थान पर अंतिम यात्रा के दौरान दिवंगत स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की पत्नी श्रीमती चन्द्र प्रभा बाजपेयी ,छै पुत्र क्यों न्यायमूर्ति चन्द्र भूषण बाजपेयी, पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश बाजपेयी, विद्युत मंडल एस ई चन्द्र मोहन बाजपेयी, अध्यक्ष ज़िला अधिवक्ता संघ चन्द्र शेखर बाजपेयी,पूर्व पार्षद चन्द्र प्रदीप बाजपेयी अखिलेश,राज्य क्रीड़ा अधिकारी डॉक्टर चन्द्र नाथ बाजपेयी तीन पुत्रियाँ चन्द्र किरण दिनेश शुक्ला जबलपुर, चन्द्र कला राजेश त्रिवेदी प्रियदर्शनीय नगर, चन्द्र कांता अतुल तिवारी गौरेला पेंड्रा मरवाही पाँच पौत्र वधु श्रीमती आभा चन्द्र मौली, चन्द्र प्रताप, चन्द्र भानू, चन्द्र सौम्य, चन्द्र पीयूष एक पौत्री चन्द्र आर्या सहित समस्त परिजनों ने नम आंखों से अपने घर के मुखिया को अंतिम विदाई दी ।