स्व. बसंत झाड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित करने पत्रकार पहुंचे राजेश झाड़ी के घर



बीजापुर। छत्तीसगढ़ राज्य के बीजापुर जिले में स्थानीय पत्रकारों का घर बीहड़ के गाँव में है। पत्रकार सरकार को बीजापुर जिले के विकास से लेकर तमाम जमीनी हकीकत समाचार पत्रों व न्यूज़ चैनल के माध्यम से रुबरु कराते हैं। ऐसे में यदि पत्रकार परिवार पर कोई मुसिबत आए तो पत्रकार ही साथ होते हैं।

पत्रकार राजेश झाड़ी के भाई की जन अदालत में मौत की सजा के बाद बीजापुर जिले के सारे पत्रकार साथी कोतापल्ली गांव पहुँच कर मृतात्मा को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए परिजनों को सांत्वना देकर लौट आए।

अंतिम छोर पर बसा गांव कोतापल्ली में माओवादीयों से दहशत का माहौल देखने को मिला। गाँव में सन्नाटा रहा। 50 से 60 घर में से कोई भी नहीं निकला।

स्व. बसंत झाड़ी सौर ऊर्जा विभाग में टेक्नीशियन के रूप में कार्यरत थे अचानक दिवाली के दिन माओवादियों ने मुखबिरी का आरोप लगाकर हत्या कर दी थी।

वहीं स्व. बसन्त झाड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित करने पत्रकार राजेश झाड़ी के घर कोतापल्ली पहुंचे।

Read More- Omicron Symptoms ‘Cold-Like’: What Does UK Study Say on COVID Variant?