11वीं सदी से स्थापित ऐतिहासिक मूर्ति से छेड़छाड़, मूर्ति की सूंड में लिखा अपना नाम



दंतेवाड़ा: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में करीब तीन हजार फुट की ऊंचाई पर ढोलकल चोटी पर स्थापित भगवान गणेश की मूर्ति से असामाजिक तत्वों ने छेड़छाड़ करते हुए अपना नाम मूर्ति की सूंड में लिखा है। मूर्ति से छेड़छाड़ करने वाले बदमाशों की पहचान नहीं हो पाई है। 11वीं-12वीं सदी से स्थापित इस ऐतिहासिक मूर्ति से छेड़छाड़ के बाद लोगों में खासी नाराजगी है।

मिड डे मील के तहत बनाये जाने वाले भोजन के लिए बच्चों से मंगवाई जाती है लकड़ी

दरअसल, ढोलकल चोटी पर गणपति के दर्शन करने के लिए लोगों की भीड़ दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है. घने जंगल और पहाड़ी रास्तों पर ट्रेकिंग करके यहां पहुंचा जाता है। इसलिए यह क्षेत्र पर्यटन की दृष्टि से पर्यटकों का बहुत पसंदीदा बन गया है। यहां ट्रेकिंग के साथ-साथ हमें भगवान के दर्शन भी होते हैं। ऐसे में भगवान गणेश की इस सदियों पुरानी मूर्ति के साथ दूसरी बार छेड़छाड़ की गई है.

आज के दिन भूलकर भी न तोड़ें तुलसी के पत्ते, न चढ़ाएं जल, जानिए…