1.50 लाख नंबर्स की जांच, 20 जगह के फुटेज तलाशे, दुष्कर्मी का सुराग नहीं , June 15, 2020 at 06:13AM

7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में बेमेतरा पुलिस को अब तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। पुलिस अब तक आरोपी को तलाश नहीं कर पाई है। मामले में एसपी ने एएसपी, एसडीओपी, सीनियर थाना प्रभारियों, सायबर सेल के प्रमुख समेत 40 लोगों की टीम बनाई। इन्हें 5 भाग में अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई। लेकिन अब तक पुलिस के हाथ इस मामले में खाली ही हैं।
घटना स्थल से लेकर सिमगा तक रास्ते में लगे वीडियो फुटेज खंगाले गए। करीब 20 स्थानों से फुटेज लाए गए और उनकी तफ्तीश की गई। 100 से अधिक मोबाइल टावर डेटा भी खंगाले गए। इसमें 11 लाख नम्बरों में से 1.50 लाख नंबरों को जांच के दायरे में लिया गया। इन पर जांच अब भी जारी है। वहीं दूसरी टीम ने लगभग 350 ट्रकों की जांच की और ड्रायवरों से पूछताछ की गई। इसमें लंबी दूरी के ट्रकों व धान परिवहन व रेत परिवहन में लगे हाईवा के चालकों से भी पूछताछ जारी है। इसके अलावा बेमेतरा ट्रक एसोसिएशन व कवर्धा व सिमगा के ट्रक एसोसिएशन के पदाधिकारियों की भी मदद ली गई और उनके साथ बैठक भी की गई।
घटना स्थल और आगे के रास्तों में भी पूछताछ

एक अन्य टीम घटना स्थल में लगातार मौजूद रहकर ग्रामवासियों से पूछताछ कर रही है। घटना स्थल से निकलने वाले रास्तों से आगे बढ़ते हुए भी जांच जारी है। वहीं एक अन्य टीम द्वारा मध्य प्रदेश व राजस्थान आरटीओ कार्यालय से भी ट्रकों के रजिस्ट्रेशन संबंधी व वाहन स्वामी की जानकारी प्राप्त कर ट्रक ड्रायवरों जानकारी ले रही है। दूसरी ओर लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम के मामले में न्यायालय द्वारा पीड़िता को 2 लाख रुपए अंतरिम राहत की राशि प्रदाय करने का आदेश दिया गया है। अब इस मामले में पुलिस ने आम लोगों से जानकारी के लिए सहयोग करने की अपील की है। पुलिस ने जानकारी देने वाले को पुरस्कृत करने की भी बात कही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3e3YZ4G

0 komentar