सिविल लाइन में उकेरी जाएंगी पारंपरिक कलाकृतियां, 18.83 लाख रु. की मंजूरी , June 15, 2020 at 05:39AM

सिविल लाइन चौक से लेकर पॉलीटेक्निक कॉलेज, विज्ञान विकास भवन व एसपी बंगला के आसपास छत्तीसगढ़ की पारंपरिक कलाकृतियां उकेरी जाएंगी। इसके लिए 18.83 लाख रुपए की मंजूरी मिली है।
स्वीकृत राशि से पंथी नृत्य, राउत नाचा, सुवा नृत्य, कृषक एवं कुम्हार सहित छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक झांकियों को जीवंत किया जाएगा। इसके अलावा गांधी तिराहा एवं नगर निगम के सामने की दीवारों पर भी ऐतिहासिक घटनाओं का छायाचित्र उकेरी जाएंगी।

विधायक वोरा ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में कांग्रेस सरकार छत्तीसगढ़ की अस्मिता एवं संस्कृति का संरक्षण करने हेतु गंभीर एवं संवेदनशील है। नरवा, गरुवा, घुरवा, बाड़ी को पुनर्जीवित कर प्रदेश में करोड़ों रुपए की राशि से गौठान, स्टॉप डेम, उद्यानिकी पशुपालन को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। शहर के साथ-साथ गांवों में विकास कार्य तेजी से किया जा रहा है। राज्य सरकार विकास कार्यों को लेकर काफी सकारात्मक कार्य कर रही है। यह आगे भी जारी रहेगा। कार्य के निरीक्षण के दौरान एमआईसी अब्दुल गनी, राजेश शर्मा, अल्ताफ अहमद, पोषण साहू, अंशुल पांडेय मौजूद थे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Traditional artworks will be carved in the civil line, Rs 18.83 lakh Approval of


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30EYydq

0 komentar