रायगढ़ जिले की घटना पर सरकार नाराज,  2 ग्रामीण और 3 विद्युत विभाग के कर्मचारियों  पर कार्रवाई , June 17, 2020 at 07:43AM

जिले के धरमजयगढ़ वनमण्डल के गेरसा गांव में करंट की वजह से हाथी की मौत के मामले में दो आरोपी किसानों और विद्युत विभाग के तीन कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। आरोपी कृषक भादोराम और एक अन्य किसान को पकड़ा गया है। अवैघ बिजली कनेक्शन इन किसानों ने ले रखे थे। इसी की चपेट में आने से हाथी की मौत हुई। इस मामले में वन विभाग ने विद्युत विभाग के तीन कर्मचारियों के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग की है। राज्य सरकार की तरफ से जारी की गई जानकारी के मुताबिक अवैध रूप से विद्युत कनेक्शन देने और घटना स्थल से साक्ष्य मिटाने के मामले में विद्युत विभाग के सब इंजीनियर राजेंद्र कुजूर, लाईनमेन अमृत लाल और इनके एक सहायक को गिरफ्तार किया जा सकता है।


वन विभाग और विद्युत विभाग आमने-सामने
विद्युत विभाग के एग्जेक्टिव इंजीनियर एसके साहू ने बताया कि घटना के बाद हमारी टीम ने मौके पर मुआयना किया। वहां पड़े तारों को हम हटा रहे थे। यह एक सामान्य प्रक्रिया है। इसे वन विभाग ने साक्ष्य मिटाने की साजिश मान लिया। यह आरोप गलत है। इस पर हम अपनी बात रखेंगे। प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी ने बताया कि धरमजयगढ़ वन मण्डल के ग्राम गेरसा में सुबह हुई हाथी की मौत की वजह करंट था। अवैध कनेक्शन के फैले तारों की वजह से इसने हाथी को अपनी चपेट में लिया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर रायगढ़ के गेरसा गांव की है। खेत के पास हाथी इसी तरह मृत पड़ा मिला। इस इलाके में हाथियों का बड़ा झुंड रहता है, कटहल खाने के लिए हाथी खेतों के इलाकों में आते हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3e7idqp

0 komentar