अंबेडकर अस्पताल के 3 जूनियर डॉक्टर, मां-बेटे समेत क्वारेंटाइन वाले 9 लोगों के साथ 17 पॉजिटिव , June 18, 2020 at 07:21AM

राजधानी में बुधवार को 24 घंटे के भीतर कोरोना के 17 नए संक्रमित मिल गए हैं, जो एक दिन में मिले मरीजों में सबसे ज्यादा हैं। राजधानी में कोरोना संक्रमण का पहला केस 18 मार्च को मिला था, लेकिन पिछले 10 दिन में मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। हाल में अंबेडकर अस्पताल की एक जूडो कोरोना पाजिटिव निकली थी। उसके तीन और जूनियर डाक्टर साथी बुधवार को संक्रमित पाए गए हैं। देवेंद्र नगर सेक्टर-5 के पूर्व में पॉजिटिव हुए युवक के माता-पिता और पत्नी-बेटा भी पॉजिटिव मिले है।
यही नहीं, एयरपोर्ट के ठीक सामने जैनम भवन में क्वारेंटाइन काट रहे 5 प्रवासी मजदूरों में भी कोरोना निकला है। भास्कर ने बुधवार को मिले मरीजों की पड़ताल की, तो पता चला कि इनमें से 16 लाेग किसी न किसी पाजिटिव के संपर्क में अाने से संक्रमित हुए हैं।
राजधानी में बुधवार को पहला केस मोवा से आया। तिल्दा के सीएचसी में कार्यरत 30 वर्षीय महिला पाजिटिव पाई गई। प्रोफेसर कॉलोनी के 28 वर्षीय युवक तथा पुणे से आई युवती समेत 4 लोग होम अाइसोलेशन में थे, जो कोरोना पाए गए हैं। एम्स व अंबेडकर अस्पताल में लगातार डॉक्टरों, नर्सिंग व पैरामेडिकल स्टाफ के संक्रमित होने के केस आ रहे हैं। लेकिन बुधवार को पहली बार शंकरनगर के एक निजी अस्पताल में भर्ती मरीज कोरोना पाजिटिव पाया गया है। सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल के अनुसार राजधानी समेत जिले में बुधवार को 5 प्रवासी मजदूर, अन्य मरीजों के संपर्क में आए 13 लोग तथा एक हेल्थ केयर स्टाफ पाजिटिव मिला है।
यहां मिले हैं नए मरीज
मोवा, प्रोफेसर कॉलोनी, आमापारा, डीएम टॉवर बिरंगाव, अवंति विहार व शंकरनगर निजी अस्पताल से एक-एक मरीज, देवेंद्रनगर सेक्टर-5 से दो मरीज, फाफाडीह चौक से 2 मरीज और जैनम भवन से 7 मरीज मिले हैं।

ऐसे 40 से ज्यादा इलाके जहां मिले एक से ज्यादा मरीज
राजधानी रायपुर में ऐसे 40 से ज्यादा इलाके हो गए हैं, जहां दूसरी बार भी कोरोना संक्रमित मिले हैं। तीन दिन पहले तक शहर के 64 इलाके कंटेनमेंट जोन बनाए गए थे, लेकिन अब यह संख्या 100 के करीब पहुंच रही है। आमापारा, बैरन बाजार, चंगोराभाटा, देवेंद्र नगर, देवपुरी, गुढ़ियारी, टाटीबंध, तेलीबांधा, संजय नगर, कबीर नगर, भाटागांव, सड्ढू, उरला, कालीबाड़ी जैसे इलाकों में एक से अधिक मरीज मिल चुके हैं। रायपुर में पहला केस समता कॉलोनी और दूसरा बैरनबाजार में मिला था। इसके बाद के छह केस केवल पुराने शहर के अलग-अलग इलाकों जैसे रामनगर, रोहणीपुरम, हर्षित विहार, इतवारी बाजार, गुरमुख नगर, रामसागर पारा, लक्ष्मण नगर, गोकुल नगर इलाके में मिले। अप्रैल मई जून के बीच जिन नए इलाकों में पॉजिटिव केस मिले हैं उनमें प्रेमनगर, पंडरी, सुभाष नगर, यादवपारा, वीआरएस कॉलोनी, राजीव नगर, जैनम भवन, खमतराई, डंगनिया, भवानी नगर, गौसिया चौक, शिवनगर आमा सिवनी अश्विनी नगर जैसे इलाके भी हैं।

सदर बाजार नहीं, पुलिस लाइन में कंटेनमेंट जोन : जिला अस्पताल के पीछे स्थित सदर पुलिस लाइन में पॉजिटिव केस मिलने के बाद इसे सील कर दिया गया है। इसके जिला अस्पताल वाले हिस्से को सदर पुलिस लाइन कहा जाता है। मंगलवार को जब सदर पुलिस लाइन कंटेनमेंट घोषित किया गया, तब सदर बाजार का हल्ला मच गया था। जबकि सदर पुलिस लाइन का कंटेनमेंट जोन सदर बाजार से दूर है। 102 महतारी एक्सप्रेस के स्टाफ में कोरोना पॉजिटिव होने के बाद खबर आई थी कि मरीज 104 का स्टाफ था। स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्पष्ट किया गया है कि 104 के किसी भी स्टाफ को कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
टाटीबंध की एक सोसाइटी सील की गई।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/37G82GY

0 komentar