ब्रिटेन से आया था शहर का पहला कोरोना पॉजिटिव, अब तक मरीज 50 हुए, इनमें 30 बाहर ही नहीं गए , June 11, 2020 at 05:36AM

राजधानी में पहला कोरोना पाजिटिव संक्रमण ब्रिटेन से लौटी युवती में मिला था, और तब यह चर्चा थी कि अधिकांश पाजिटिव वही निकलेंगे, जिनकी कोई न कोई ट्रैवल हिस्ट्री होगी। लेकिन ढाई महीने में पूरी तस्वीर उलट गए। राजधानी में तब से अब तक 50 कोरोना पाजिटिव मिल चुके हैं। इनमें से 30 मामले तो ऐसे हैं, जिनमें मरीज मरीजों से शहर के बाहर ही नहीं गया। विदेश से आने वालों में संक्रमण के अांकड़े भी चौंकाने वाले हैं। शहर में 2 हजार से ज्यादा लोग विदेश से लौटे थे, जिनमें से सिर्फ 4 में ही संक्रमण मिला, वह भी ब्रिटेव वालों से ही। अन्य देशों से आने वालों में किसी तरह का संक्रमण नहीं मिला है।
मेडिकल जानकार भी लगातार कहते हैं आए हैं कि प्रवासियों के आने के बाद से जून और जुलाई मध्य तक का टाइम पीरियड शत प्रतिशत सावधानी बरतने का है। इसमें थोड़ी लापरवाही भी गंभीर हो सकती है। जून के पहले दस दिन में रायपुर जिला भी अब कोरोना केस के लिहाज से सौ के आंकड़े क्रास करने पर आ गया है। इससे पहले प्रदेश में चार जिलों कोरबा, बलोदाबाजार, मुंगेली और बिलासपुर में मरीजों की तादाद सौ के पार पहुंच चुकी है। कोरबा में जहां सवा सौ मामले आ चुके हैं। वहीं बलोदा बाजार में 120, मुंगेली में 106 और बिलासपुर में 105 पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं। रायपुर के अलावा कवर्धा भी ऐसा जिला है जो सौ का आंकड़ा पार कर चुका है। शहर के कोरोना पॉजिटिव केस जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री मिली है। यानी जिन्होंने बीते हफ्तों या महीनों में किसी अन्य जगह की यात्रा की है। उनमें ज्यादातर मामलों में पेशेंट की पिछली यात्रा छत्तीसगढ़ के ही अन्य जिलों की है।इसमें जांजगीर चांपा, कवर्धा जैसे जिले हैं। जबकि बाहरी राज्यों में आंध्र प्रदेश महाराष्ट्र मध्यप्रदेश जैसे राज्य हैं। जबकि रायपुर जिले की बात करें तो आसपास के कस्बों और शहरों में आए प्रवासियों के अब तक आए ज्यादातर मामले महाराष्ट्र के रहे हैं

संक्रमण कहां से आया
8 प्रतिशत - विदेश यात्रा से लौटे
60 प्रतिशत - ट्रैवल हिस्ट्री ही नहीं
32 प्रतिशत - अन्य जिले या राज्य से
रायपुर शहर में मरीजों की उम्र
35 प्रतिशत - 20 से 25 साल
20 प्रतिशत - 25 से 35 साल
45 प्रतिशत - बच्चे और बुजुर्ग

शहर का ट्रेंड - विदेश से लौटे केवल 4 ही निकले पॉजिटिव
मार्च में लॉकडाउन से पहले रायपुर में करीब एक हजार लोग विदेश यात्रा करके लौटे थे। इनमें ज्यादातर लोग यूएई, यूके, थाईलैंड, यूएस ,नेपाल, पाकिस्तान, इंडोनेशिया और चीन जैसे देशों से आए थे। इनमें से चार लोग ही कोरोना से संक्रमित पाए गए और सभी ब्रिटेन से आए थे। विदेश यात्रा करके लौटने वाला आखिरी केस 24 अप्रैल को मिला।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
The first corona positive of the city came from Britain, so far 50 patients, 30 of them did not go out


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Uy3gFT

0 komentar