रतनपुर के क्वारैंटाइन सेंटर में 55 साल के वृद्ध की मौत, 13 जून को लखनऊ से लौटा था  , June 17, 2020 at 02:35PM

छत्तीसगढ़ के क्वारैंटाइन सेंटर में मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है। अब रतनपुर स्थित क्वारैंटाइन सेंटर में 55 वर्षीय एक श्रमिक की बुधवार सुबह मौत हो गई। बताया जा रहा है कि श्रमिक रोज की तरह सुबह उठकर शौचालय गया। वहां से आने के बाद बिस्तर पर लेट गया। काफी देर शरीर में कोई हलचल नहीं होने पर परिजनों ने देखा तो मौत का पता चला।

जानकारी के मुताबिक, मस्तूरी के मानिकचौरी निवासी जागेश्वर यादव 13 जून को लखनऊ से लौटा था। इसके बाद उसे गांधी नगर के पास स्थित शासकीय महामाया विद्यालय में बनाए गए क्वारैंटाइन सेंटर में रखा गया था। मंगलवार रात अपने साथियों के साथ जागेश्वर यादव ने भोजन किया। इसके बाद सुबह अचानक से उसकी मौत हो गई। उसकी मौत का कारण स्पष्ट नहीं है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कह सकेंगे।

अव्यवस्थाओं के कारण सुर्खियों में रहा है सेंटर
दूसरी ओर सेंटर में रह रहे श्रमिकों का आरोप है कि रात को जो भोजन दिया गया, वह अधपका था और उसमें कीड़े थे। उन्होंने आरोप लगाया कि वही भोजन करने से जागेश्वर यादव की मौत हुई है। ये क्वारैंटाइन सेंटर पहले भी सुर्खियों में रहा है। यहां ठहराए गए श्रमिकों ने एक बार अधपका भोजन होने का हवाला देकर फूड पैकेट फेंक दिए थे। जबकि एक बार श्रमिकों का विवरण लेने पहुंचे दो शिक्षकों पर गंदा पानी डाल दिया गया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2AK2miP

0 komentar