मासूम के इलाज का खर्च उठाया ‘फौजी के अल्फाज’ ने, हजारों को पहुंचाई मदद , June 13, 2020 at 05:59AM

कोरोना वायरस की महामारी के बीच समाजसेवी संस्थाएं जरूरतमंद लोगों के लिए मददगार साबित हो रही है। ऐसी ही एक संस्था है ‘फौजी के अल्फाज’। संस्था ने पिछले साल कोमा में रहे एक मासूम बच्चे के लिए एक महीने की दवाई और जरूरत की सामग्री उपलब्ध कराई।
फौजी के अल्फाज संस्था प्रमुख कुलदीप शर्मा ने बताया कि हमारा सामना बेंगलूरू में एक ऐसे परिवार से हुआ, जिसमें उनका 6 साल का बच्चा होनालिंगा पिछले वर्ष कोमा में था। इस परिवार की मासिक आय 3000 रुपए है। पिछले वर्ष एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान नौ लाख कर्ज लेने पर इस परिवार की स्थिति बदहाल हो चुकी थी। इस पर फौजी के अल्फाज उनकी मदद के लिए आगे आई। इसके बाद संस्था ने इस महीने की दवाई और मेडिकल का खर्च उठाया। यह संस्था छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, दिल्ली और हरियाणा समेत कई राज्यों में अपनी सेवाएं दे रही है। संस्था के सदस्य जरूरतमंदों में खाना बांटने से लेकर घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रहे है। संस्था हर दिन 3000 से ज्यादा लोगों तक मदद पहुंचा रही है।
जिनके पास न राशन कार्ड है और न ही खाने के लिए पैसे है, ऐसे 30 हजार से ज्यादा लोगाें को यह संस्था खाना और राहत सामग्री पहुंचा रही है। संस्था की अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट faujikealfaaz.org को विजिट किया जा सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
6 साल के होनालिंगा को दवाइयां सौंपते हुए संस्था के सदस्य।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2XVgheM

0 komentar