नक्सल मोर्चे पर तैनात सीआरपीएफ, डीआरजी और एसटीएफ का ज्वाइंट कैंप, जवानों ने सीखे एक दुसरे से लड़ाई के गुर , June 14, 2020 at 01:10PM

नक्सल प्रभावित क्षेत्र बुर्कापाल में केन्द्रीय बलों के जवानों और राज्य पुलिस बल की टीम का ज्वाइंट कैंप लगाया गया। यहां जवानों ने एक दूसरे के साथ बेहतर तालमेल स्थापित करने और एक दूसरे की खूबियों को जाना। दो दिवसीय इस आयोजन में 206 कोबरा बटालियन सीआरपीएफ, सीआरपीएफ की 150 बटालियन, डीआरजी तथा एसटीएफ कमांडों ने एक साथ ट्रेनिंग की।

जवानों के लिए यहां खेल गतिविधियों का आयोजन भी किया गया था।
जवानों के लिए यहां खेल गतिविधियों का आयोजन भी किया गया था।

राज्य के नक्सल प्रभावित इलाकों में ये फोर्स सुरक्षा व्यवस्था संभालतीं हैं। इस ट्रेनिंग प्रोग्राम की शुरुआत में 21 मार्च को मिनपा के जंगलों मे शहीद हुए 17 जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। सीआरपीएफ के पुलिस उपमहानिरीक्षक योज्ञान सिंह ने जवानों से कहा हमारे जवान कई कठिन चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। लेकिन इसके बाद भी वे अपनी पूरी क्षमता के साथ इस अतिसंवेदनशील इलाके में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस दौरान खेल और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी हुआ। जवानों को इस दौरान अपना टैलेंट दिखाने का मौका मिला।शनिवार को विजेताओं को सम्मानित किया गया।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर बुर्कापाल में हुए ज्वाइंट कैंप की है। बुर्कापाल बेहद संवेदशनशील इलाका है। यहां अाए दिन नक्सल घटनाएं होती रहती हैं। इस कैंप के बाद जवानों को दूसरी फोर्स के तरीकों की जानकारी भी मिली है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3fjfWIK

0 komentar