नक्सलियों के लिए ट्रैक्टर खरीदने गए दो शहरी मददगार गिरफ्तार, पुलिस का दावा- पहले भी जंगलों में सामान पहुंचाते रहे हैं , June 14, 2020 at 03:51PM

जिले में दो नक्सली मददगारों को पकड़ा गया है। पुलिस की गिरफ्त में आए इन लोगों पर आरोप हैकि यह नक्सलियों को जरूरत का सामान और रुपए पहुंचाया करते थे। पुलिस ने इनके पास से एक ट्रैक्टर बरामद किया है। बताया गया है कि एक 5 लाख के इनामी नक्सली कमांडर अजय ने आरोपियों को ट्रैक्टर खरीदने के लिए रुपए दिए थे। आरोपी जब ट्रैक्टर लेकर लौट रहे थे, तभी मुखबिर से मिले इनपुट के आधार पर पुलिस ने इन्हें पकड़ लिया। आरोपियों ने नक्सलियों की मदद करने की बात कबूली है।

ट्रैक्टर डील कर दिया गया
दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने बताया कि चित्रकोट जाने वाले मार्ग पर बारसूर की ओर से एक लाल रंग का ट्रैक्टर आता दिखाई दिया। इसे रोककरट्रैक्टर चालक से पूछताछ की गई। उसने अपना नाम रमेश उसेंडी बताया। वह नारायणपुर का रहने वाला है।पुलिस को मुखबिर से मिली जानकारी की वजह से पुलिस को रमेश पर शक था। पूछताछ में उसने बताया कि नक्सलीअजय ने 4 लाख रुपए देकर ग्राम हंदवाड़ा पहुंचने कहा था। जहां उसकी मुलाकत बारसूर निवासी जगत पुजारी से हुई। दोनों ने जाकर ट्रैक्टर खरीदा। अब जगत पुजारी और रमेश पुलिस हिरासत में हैं।

नक्सली करते हैं खेती
इस डील के बाद यह बात पुख्ता हो गई है कि नक्सली सिर्फ जंगलों में भटकते हुए जिंदगी नहीं बिताते, बल्कि खेती भी करते हैं। पुलिस ने बताया कि इस डील के तहत खरीदे गए ट्रैक्टर से भी नक्सली खेती करने वाले थे। इस फसल को अपने उपयोग और बाजार में भी बेचा जाता है। जाहिर है ऐसे में किसानों को मिलने वाला सरकारीफायदा नक्सलियों को भीपहुंचता होगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर दंतेवाड़ा के एसपी ऑफिस की है। यहां पुलिस ने मीडिया के सामने आरोपियों को पेश किया और घटना के संबंध में जानकारी दी।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3fmOGZN

0 komentar