मानसून की जून में ही पहली झड़ी, प्रदेश के कई हिस्सों में भारी बारिश , June 23, 2020 at 05:30AM

पूरे प्रदेश में रविवार को आधी रात के बाद से शुरू हुई बारिश सोमवार को दिनभर चली और जून में मानसून की पहली ही झड़ी ने प्रदेश के कई हिस्सों को लबालब कर दिया। इस दौरान धमतरी के नजदीक गुरूर में 18 सेमी (180 मिमी) पानी बरस गया है। प्रदेशभर के 15 स्टेशनों में 10 सेमी (100 मिमी) से ज्यादा बारिश हुई है। लगभग आधे राज्य में सोमवार रात तक भारी वर्षा रिकार्ड कर ली गई है। राजधानी रायपुर समेत मैदानी इलाकों में भी बारिश सोमवार को तड़के से आधी रात तक नहीं थमी और 5-5 सेमी से ज्यादा पानी बरस गया है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक यह झड़ी तीन दिन की हो सकती है, अर्थात मंगलवार और बुधवार को भी अच्छी बारिश के आसार हैं।

प्रदेश के सभी संभागों में बारिश रविवार रविवार की रात से चल रही है और सोमवार को आधी रात तक थमी नहीं है। गुरुर के बाद छुरा में 170 तथा बालोद, गरियाबंद, धमतरी, अंतागढ़, गुंडरदेही में 130 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई है। भैयाथान, सराईपाली, पाटन, माकड़ी, नारायणपुर, मगरलोड, चारामा, बसना तथा बड़े राजपुर में 100 मिमी तक वर्षा हुई। मौसम विभाग के 100 से अधिक सेंटरों में मध्यम से भारी और कहीं-कहीं हल्की बारिश रिकार्ड की गई। सोमवार को सुबह से ही राजधानी समेत प्रदेश के कई हिस्सो में अच्छी और झड़ीदार बारिश हुई। रायपुर में सुबह साढ़े आठ से शाम साढ़े पांच बजे तक 47 मिमी पानी बरस गया। बिलासपुर, दुर्ग में 25 मिमी से ज्यादा पानी गिरा। दुर्ग, राजनांदगांव, पेंड्रारोड, अंबिकापुर तथा जगदलपुर में दिनभर में अच्छी बारिश हुई।
जून में ही रिकॉर्ड बारिश
जून में ही राज्य के सभी जिले औसत से ज्यादा बारिश वाले क्लब में शामिल हो गए हैं। मौसम विभाग ने 1 से 22 जून तक बारिश के रिकार्ड जारी किए हैं। इसके अनुसार 21 जिलों में अतिभारी और 6 जिलों भारी बारिश हो चुकी है। राज्य का कोई जिला नहीं है जहां अब तक कम बारिश हुई है। कृषि सहित सभी सेक्टरों के लिए इसे अच्छा संकेत माना जा रहा है।
लॉकडाउन से प्रदूषण घटा, इसलिए झड़ी
"लॉकडाउन के कारण प्रदेश के वायुमंडल में कार्बनिक पदार्थों की 50 फीसदी कमी के कारण ही पिछले 24 घंटे से झड़ी लगी है। इससे कोरोना को छोड़कर सांस, गले और फेफड़े की बीमारी के पंजीकृत मरीजों की संख्या में कमी की संभावना है।"
-डाॅ. शम्स परवेज, प्रोफेसर, रविवि

ओडिशा और उसके आसपास बना चक्रवात
"ओडिशा व आसपास एक चक्रवात है। उत्तर पंजाब से उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक, हरियाणा, दक्षिण यूपी, झारखंड व उत्तर तटीय ओडिशा तक एक द्रोणिका है। इससे मंगलवार को बारिश की संभावना है।"
-एचपी चंद्रा, मौसम विज्ञानी



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर रायगढ़ के कयाघाट की है। एनिकट पर पानी का बहाव तेज होने के बाद भी लोग आना-जाना कर रहे हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2BsyYOm

0 komentar