अब कोरबा के क्वारैंटाइन सेंटर में भूत की अफवाह; ग्रामीण बोले- रात में घूमती हैं प्रेत आत्माएं, कई लोग करने लगते हैं अजीब तरह की हरकतें , June 29, 2020 at 10:52AM

छत्तीसगढ़ के एक और क्वारैंटाइन सेंटर में भूत की अफवाह फैल गई है। अब कोरबा के उरगा क्षेत्र में बनाए गए क्वारैंटाइन सेंटर में ग्रामीणें ने रात को प्रेत आत्माओं के घूमने की बात कही है। इसको लेकर रविवार को ग्रामीणों ने हंगामा करते हुए वहां रहने से मना कर दिया है। वहीं, स्कूल प्राचार्य का कहना है कि भूत नहीं है। लोगों को कोराेना का डर है। सेंटर में संक्रमित मरीज मिलने के कारण ग्रामीण यहां रहना नहीं चाहते।

करतला विकासखंड औरउरगा थाना क्षेत्र के पठियापाली में शासकीय उच्च माध्यमिक स्कूल को क्वारैंटाइन सेंटर बनाया गया है। इस सेंटर में रहने वाले स्थानीय श्रमिकों का कहना है कि रात के समय प्रेत आत्मा घूमती है। इसकेकारण कई लोग अजीब हरकतें करते हैं। शनिवार रात उनमें से एक युवक पर प्रेत आत्मा सवार हो गई। इस पर साथी मजदूरों ने उसे ठीक करने का प्रयास किया। अगले दिन रविवार को ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया।

पुलिस बोली- लोग घर नहीं जा पा रहे, इसलिए अफवाह फैला रहे
हंगामे की सूचना पर पुलिस और प्रशासन की टीम पहुंची। लाेगों कोसमझाया, लेकिन ग्रामीण सेंटर बदलने को लेकर अड़े हुए हैं। उरगा थाना प्रभारी अभय बैस का कहना है कि सेंटर से कई लोग कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। इसके चलते वहां ठहरे लोग निर्धारित समय पूरे होने के बाद भी घर नहीं जा पा रहे हैं। स्कूल के प्राचार्य जीपी शर्मा भी यही बात कहते हैं। वह बताते हैं कि संक्रमित मरीज मिलने के बाद डर से श्रमिक सेंटर छोड़ना चाहते हैं।

गांव में संक्रमण का खतरा, सेंटर बदलने की मांग
पठियापाली के सरपंच श्यामलाल कंवर ने बताया कि गांव में स्थित क्वारैंटाइन सेंटर से अब तक 5 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जिसमें प्रवासी मजदूर भी शामिल है। ग्रामीण नियमों की अनदेखी करते हुए गांव में आनाजाना कर रहे हैं जिससे कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। क्वारैंटाइन सेंटर में ठहरे लोग वहां प्रेत-आत्मा की बात कहते हुए सेंटर बदलने की मांग कर रहे हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
कोरबा के उरगा क्षेत्र में बनाए गए क्वारैंटाइन सेंटर में रोके गए ग्रामीणें ने रात को प्रेत आत्माओं के घूमने की बात कही है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2ZbwhbS

0 komentar