शिक्षाकर्मियों के संविलियन का आदेश जारी, 16 हजार से ज्यादा ऐसे जिन्होंने 2 साल की सर्विस पूरी की उन्हें मिलेगा फायदा , July 25, 2020 at 06:09AM

प्रदेश के 16 हजार 278 शिक्षाकर्मियों का स्कूल शिक्षा विभाग में संविलियन कर लिया गया है। इसे लेकर शुक्रवार को स्कूल शिक्षा विभाग के अवर सचिव जनक कुमार ने आदेश जारी कर दिए। आदेश के मुताबिक संविलियन 1 नवंबर 2020 से शिक्षा विभाग में किया जा रहा है। दो साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों को इसका फायदा मिलेगा।

आदेश के मुताबिक 1 जुलाई तक 8 साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों का भी संविलियन कर लिया जाएगा। इसमें इसी महीने 12 जुलाई को जारी आदेश में संशोधन भी किया है। दरअसल कांग्रेस ने चुनाव के दौरान ये वादा किया था कि दो साल की सेवा के बाद सभी शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर लिया जाएगा। पूर्व की भाजपा सरकार ने 8 साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षाकर्मियों का संविलियन किया था। इसे लेकर कई सालों तक शिक्षाकर्मी आंदोलन करते रहे।


दोगुने से ज्यादा हो जाएगा वेतन
संविलियन प्राप्त करने वाले शिक्षाकर्मियों के वेतन में बड़ा इजाफा होगा। खासतौर पर उन शिक्षाकर्मियों की तनख्वाह में जिनकी सेवा 7 साल से कम है। वह व्याख्याता जो 7 वर्ष से कम सेवा वाले हैं उन्हें अभी 17-18 हजार रुपए वेतन के रूप में मिलते हैं। संविलियन के बाद उन्हें 40 हजार रुपए तक वेतन मिलेगा। जो शिक्षक 7 साल से कम सेवा वाले हैं, उन्हें अभी 14-15 हजार मिलते हैं। उन्हें लगभग अब हर महीने 36 हजार रुपए मिलेंगे। सहायक शिक्षक जो 7 साल से कम सेवा वाले हैं, उन्हें 12 से 13 हजार रुपए मिल रहे हैं। अब उन्हें 26 से 28 हजार रुपए वेतन मिलेगा ।


सेवा शर्ते पहले की ही तरह
13000 शिक्षाकर्मियों को अब फायदा मिलेगा क्योंकि पुराने नियम के हिसाब से उन्हें 8 वर्ष की सेवा पूर्ण करनी पड़ती। लेकिन अब सिर्फ 2 साल की सेवा में ही संविलियन होगा। शासन ने यह भी स्पष्ट कर दिया है शिक्षाकर्मियों के संविलियन के लिए तमाम शर्तें वही रहेंगी जो 2018 में संविलियन करते समय लागू थी यानी उसमें कोई संशोधन नहीं किया गया है। इसका आशय है कि शिक्षाकर्मियों के पूर्व सेवा की गणना नहीं होगी। जिस तारीख को उनका विभाग में संविलियन होगा उसी तारीख से स्कूल शिक्षा विभाग में उनके सेवा की गणना होगी। जैसा कि 2018 में संविलियन हुए शिक्षाकर्मियों के साथ हुआ था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर बस्तर के शिक्षाकर्मियों की है। पिछले दिनों वॉल राइटिंग के अभियान के जरिए सरकार का ध्यान अपने संविलियन की ओर दिलाने का अभियान भी चलाया था। अब सभी की मांग पूरी होती दिख रही है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jyiPs5

0 komentar