बेवजह घर से बाहर निकले लोगों को मिली सड़क किनारे 2 घंटे खड़े रहने की सजा, कलेक्टर और एसपी ने लोगों को रोका , July 24, 2020 at 03:53PM

प्रदेश के 10 से ज्यादा शहरों में लॉकडाउन लागू किया गया है। जांजगीर के भी शहरी और 11 नगर पंचायत एरिया में लॉकडाउन और कर्फ्यू लागू किया गया है। शुक्रवार को दिन भर सड़कों पर प्रशासन की सख्ती देखने को मिली। नगर पालिका क्षेत्र चांपा में बाहर घूम रहे युवकों को पकड़ा गया। यह कई तरह के बहाने बनाने लगे। सभी के सड़क के किनारे 2 घंटे तक खड़े रहने की सजा दी गई। कलेक्टर और एसपी सड़कों पर नजर आए।

कलेक्टर और एसपी ने खुद लोगों को रोका और पूछताछ की। मास्क ना पहनने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई।
कलेक्टर और एसपी ने खुद लोगों को रोका और पूछताछ की। मास्क ना पहनने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई।

इन अधिकारियों ने बाहर घूम रहे लोगों से पूछताछ की। चौराहोंपर तैनात कर्मचारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए। चेक पोस्ट बढ़ाने के लिए एसडीओपी और एसडीएम को दिए निर्देशित किया गया। एसपी ने बेवजह बाहर निकल रहे लोगों के खिलाफ एक्शन लिया। यातायात अधिनियम के तहत वाहन जब्त कर न्यायालय भेजने को कहा। इस वजह से कुछ लोगों की गाड़ियां भी जब्त हो गईं। इन इलाकों में प्रशासन से सुबह 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक जरूरी सेवाओं के लिए छूट दे रखी है। जिले में अब तक 390 कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। 2 संक्रमितों की मौत हो चुकी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर जांजगीर की है। इन युवकों को सजा के तहत 2 घंटे तक खड़ा रखा गया। जिले के कई इलाकों में 30 जुलाई तक लॉकडाउन लागू किया गया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jFaHGu

0 komentar