24 घंटे में 34 मिमी से अधिक बारिश, आज भी संभावना , July 23, 2020 at 05:44AM

मानसून द्रोणिका के असर से लगातार दूसरे दिन शाम को फिर से शहर में बारिश हुई। बारिश होने के कारण वातावरण में ठंडक घुल गई और गर्मी से लोगों को राहत मिली। बारिश के पहले तक लोग गर्मी के कारण परेशान हो रहे थे। बारिश के बाद मौसम ठंडा हो गया। बुधवार को शाम 5:30 बजे 9.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई जबकि सुबह 8:30 बजे के पहले तक 25. 2 मिलीमीटर बारिश हुई। यानी 24 घंटे में शहर में 34.5 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है।
बुधवार को सुबह मौसम सामान्य था लेकिन सूरज निकलने के बाद जैसे-जैसे समय गुजरता गया धूप और गर्मी बढ़ती ही गई। दोपहर में अधिकतम तापमान 33.2 डिग्री पर जा पहुंचा जो कि सामान्य तापमान से दो डिग्री अधिक भी रहा। वहीं न्यूनतम तापमान 23.8 डिग्री रिकॉर्ड किया गया जो कि सामान्य तापमान से एक डिग्री कम रहा। तेज धूप की वजह से लोगों को अधिक गर्मी महसूस हुई और लोग परेशान होते रहे लेकिन धीरे-धीरे आसमान को काले बादलों ने घेरना शुरू किया और 4 बजे शहर के कई इलाकों में तेजी से बारिश होने लगी। हालांकि देर तक बारिश नहीं हुई पर फिर भी लोगों को गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग के मुताबिक मानसून द्रोणिका बीकानेर, पलवल, बदानी, बहराइच, मुजफ्फरपुर और उसके बाद पूर्व दिशा की ओर मणिपुर उप हिमालय क्षेत्र पश्चिम बंगाल और असम तक है। एक चक्रीय चक्रवाती खेरा दक्षिण असम और उसके आसपास 1.5 किलोमीटर ऊंचाई सड़क स्थित है इसके साथ एक द्रोणिका 3.1 किलोमीटर से 7.6 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। 23 जुलाई को प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा होने अथवा गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। प्रदेश में गरज चमक के साथ एक-दो स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने और भारी वर्षा होने की संभावना है। भारी वर्षा का क्षेत्र सरगुजा, बिलासपुर, दुर्ग और रायपुर संभाग रहने की संभावना है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
दोपहर में गर्मी से परेशान हुए लोग। शाम को बारिश के बाद मिली राहत।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3huNLHI

0 komentar