अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से भाग गया दुष्कर्म का आरोपी, दो जेल प्रहरी निलंबित , July 24, 2020 at 06:42AM

पुलिस और जेल प्रबंधन की नाक के नीचे से दुष्कर्म का एक आरोपी फरार हो गया। मामला जिले के मेडिकल कॉलेज का है। इस अस्पताल के कोरोना आइसोलेशन वार्ड में आरोपी रीनू शिकारी को रखा गया था। बुधवार को ही इसे मणिपुर (सरगुजा स्थित इलाका)से पकड़कर लाया गया था। जुकाम और कोरोना जैसे लक्षण की वजह से जेल भेजने से पहले इसे आइसोलेशनमें रखा गया था। युवक फरार होेने के बारे में तब पता चला अब इसे अस्पताल के बाहर जेलकर्मियों ने देखा। जब तक जेलकर्मी उसे पकड़ते आरोपी बाउंड्रीवॉल से कूदकर भाग गया।


पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर आरोपी की तलाश की लेकिन उसका पता नहीं चला। इस वजह से अब सेंट्रल जेल के अधीक्षक राजेंद्र गायकवाड़ ने सुरक्षा में तैनात दो जेल प्रहरियों नरेटी व नरेंद्र को निलंबित कर दिया। गायकवाड़ ने बताया कि मामले की विभागीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। इससे पहले 5 जून को भी आजीवन कारावास की सजा काट रहा एक कैदी भाग चुका है। इसे भी पुलिस अब तक ढूंढ नहीं पाई है। अब रीनू शिकारी नाम के आरोपी की इस करतूत ने पुलिस और जेल विभाग की पोल खोलकर रख दी है।


अपहरण कर किशोरी के साथ दुष्कर्म का है आरोप
पुलिस ने बताया कि आरोपी रीनू शिकारी मूलत: कोरबा जिले के कटघोरा का रहने वाला है। वह बीच-बीच में अंबिकापुर में आकर झाड़ू बेचने का काम करता था। इसी दौरान दिसंबर 2019 में मणिपुर इलाके की एक किशोरी का अपहरण कर अपने साथ ले गया। किशोरी के साथ उसने दुष्कर्म किया। मामला तब सामने आया जब किशोरी बरामद हुई। किशोरी के बयान के बाद रीनू के खिलाफ अपहरण व दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया। मुखबिर की सूचना पर उसे बुधवार को ही गिरफ्तार कर लाया गया था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर फरार आरोपी रीनू शिकारी की है। इसकी निगरानी में जेल के कर्मचारी तैनात थे। वॉशरूम जाने के बहाने यह उन्हें चकमा देकर निकल गया।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Bn4ddN

0 komentar