ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स पर बिकेंगे राज्य में बने मिट्‌टी के बर्तन, कुम्हारों की आर्थिक स्थिति सुधारने की कोशिश , July 30, 2020 at 05:41PM

छत्तीसगढ़ में बने मिट्‌टी के बर्तन अब ऑनलाइन शॉपिंग साइट पर बिकेंगे। देश और दुनिया का कोई भी शख्स इन्हें खरीद सकेगा। अमेजॉन और फ्लिपकार्ट जैसी वेबसाइट्स से छत्तीसगढ़ माटी कला बोर्ड ने समझौता किया है। इनकी मदद से कुम्हार और कलाकारों को मंच दिया जाएगा। सूरजपुर जिले के ग्राम तेलईकछार में ग्लेजिंग यूनिट की स्थापना में की गई है। यहां कुम्हार मिट्‌टी के बर्तन और कलात्मक चीजें बनाते हैं। इसके पीछे मकसद जिले को प्लास्टिक मुक्त बनाना है।



हमर माटी-हमर सुघ्घर सूरजपुर (हमारी मिट्‌टी, हमारा सुंदर सूरजपुर) के नारे के साथ जिला प्रशासन और ग्रामीण इस पर काम कर रहे हैं। सूरजपुर जिले के कलेक्टर रणबीर शर्मा ने गुरुवार को तेलईकछार गांव में बने माटीकला केंद्र का दौरा किया। यहां पर थाली, गिलास, कटोरी, चम्मच, पानी की बोतल, कुल्हड़, चाय-केतली सहित अन्य घरेलू बर्तन बनाए जा रहे हैं। सूरजपुर की मिट्‌टी से बने बर्तन की मजबूती अच्छीह होती है। यहां तैयार किए जा रहे बर्तनों में खाना ना सिर्फ खाया जा सकता है, बल्कि इनमें खाना पकाया भी जा सकता है। कई लोग इनका इस्तेमाल कर रहे हैं। अच्छी डिमांड भी मिलने की वजह से यहां उत्पादन बढ़ाया जा रहा है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर सूरजपुर जिले की है। यहां मिट्‌टी से बर्तन बनाने का काम कुम्हार कर रहे हैं। इनकी डिजाइनिंग को ऐसा किया जा रहा है कि इनमें भोजन पकाया भी जा सके।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30aIcbG

0 komentar