अगस्त के आखिरी हफ्ते में सत्र होने की संभावना, जिनके प्रश्न, वही विधायक-मंत्री आएंगे , July 31, 2020 at 05:26AM

कोरोना संक्रमण के बीच विधानसभा का मानसून सत्र अगस्त के आखिरी हफ्ते में हो सकता है। सत्र पांच दिनों का प्रस्तावित है और इस बार कुछ नियम बदले जा सकते हैं। सुझाया गया कि विधानसभा में बाहरी लोगों के प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। सदन में सिर्फ वे ही मंत्री-विधायक मौजूद रहेंगे जिनका प्रश्न लगा हो। यानी सामाजिक दूरी का पालन हो, यह सुनिश्चित करने के लिए पुख्ता व्यवस्था की जाएगी।
सत्र को लेकर विधानसभा स्पीकर डॉ. चरणदास महंत ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक से चर्चा कर ली है। इसके मुताबिक अगले हफ्ते मानसून सत्र को लेकर अधिसूचना जारी हो सकती है। सत्र 25 अगस्त से शुरू होकर 30 अगस्त तक खत्म हो सकता है। कुल पांच बैठकें होंगी। सत्र का पहला दिन विधायक रहे अजीत जोगी को श्रद्धांजलि देने के बाद खत्म हो जाएगा, बाकी 4 दिन कार्रवाई चलेगी। अगर कोई विधेयक रहा, तो वह भी पेश होगा। बताया गया कि सदन में सभी मंत्री और विधायक मौजूद नहीं रहेंगे। केवल वे ही मंत्री और विधायक मौजूद रहेंगे, जिनके उस दिन सवाल लगे हों। सदन के भीतर भी दो गज की दूरी का पालन करने की अनिवार्यता रहेगी।
सभी विधायकों का कोरोना टेस्ट भी हो सकता है। इन सब बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा चल रही है और स्वास्थ्य विभाग से भी परामर्श लिए जा रहे हैं। सत्र 26 सिंतबर के पहले तक आहूत करने की अनिवार्यता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Sessions likely to be held in the last week of August, whose questions will be posed by the same MLA-Minister


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3gst1k9

0 komentar