कोरोना से बचाएगा काढ़ा चूर्ण, मंत्रियों ने शुरू किया अभियान , July 31, 2020 at 05:33AM

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए राज्य सरकार ने लोगों को आयुष काढ़ा चूर्ण का वितरण शुरू किया है। इस योजना की शुरुआत वन मंत्री मोहम्मद अकबर और महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया ने वीडियाे कांफ्रेंसिंग के माध्यम से की।
छत्तीसगढ़ लोक स्वास्थ्य परंपरा संवर्धन अभियान के तहत कबीरधाम जिले के जनपद पंचायत बोड़ला में आयुष काढ़ा चूर्ण वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। जिले की प्रभारी मंत्री अनिला भेड़िया ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को इस आयुष काढ़ा से काफी मदद मिलेगी। इससे हमारे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होगी और खुद को सुरक्षित भी रख पायेंगे। भेड़िया ने कहा कि कवर्धा में आयुष काढ़ा चूर्ण का वितरण वनमंत्री अकबर की पहल पर किया जा रहा है। यह चूर्ण कोरोना संकट की विषम परिस्थिति से उबरने में काफी सहायक होगा। वनमंत्री अकबर ने कहा कि लोगों में रोग-प्रतिरक्षा के विकास में यह आयुष काढ़ा चूर्ण बहुत मददगार साबित होगा। इसके सेवन से हम सभी कोरोना जैसे गंभीर बीमारी के संक्रमण से स्वयं को बचाव कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि फिजिकल डिस्टेंसिंग और कोविड-19 के लिए जारी की गई गाइड लाइन का पालन करने की अपील की है।
इन सब चीजों से बना है काढ़ा
वनमंत्री ने बताया कि आयुष काढ़ा चूर्ण को चार औषधीय जड़ी बूटी तुलसी, दालचीनी, सोंठ और कालीमिर्च सेे तैयार किया गया है। आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा अनुमोदित तथा स्वास्थ्य परिवार कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ द्वारा जारी लायसेंस के तहत राज्य के परंपरागत प्रशिक्षित वैद्यों द्वारा इस आयुष काढ़ा चूर्ण को निर्धारित अनुपात में तैयार किया गया है। प्रत्येक व्यक्ति को तीन ग्राम चूर्ण 150 मिलीलीटर पानी में उबालना है। इसमें स्वाद के लिए गुड़ अथवा द्राक्षा (किशमिश) डालकर व नीबू के रस की दो-चार बूंद भी डालकर गर्म-गर्म पीना लाभकारी है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2EuFNQM

0 komentar