नवा रायपुर में बनेगा नया हज हाउस, हाजियों के लिए हाईटेक सुविधाएं , July 31, 2020 at 05:59AM

दो दशक के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार नवा रायपुर में नया हज हाउस बनाने की शुरुआत हो रही है। 1 अगस्त को नए हज हाउस के निर्माण का काम शुरू करने के लिए भूमिपूजन किया जाएगा। इसमें आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर के साथ महत्वपूर्ण लोग मौजूद रहेंगे। एयरपोर्ट से लगभग एक किमी की दूरी पर स्थित 3 एकड़ जमीन पर 14 करोड़ की लागत से सर्वसुविधायुक्त हज हाउस का निर्माण किया जाएगा। पिछली सरकार में हज हाउस पहले मंदिर हसौद रोड पर बनने वाला था, लेकिन वहां से एयरपोर्ट की दूरी ज्यादा होने की वजह से राज्य सरकार ने बाद में नवा रायपुर में माना विमानतल के करीब जमीन आवंटित की थी। नया हज हाउस तीन मंजिला होगा। नई डिजाइन के अनुसार बेसमेंट में करीब 200 गाड़ियों को एक साथ खड़ा किया जा सकेगा। यही पर गोदाम व रिकार्ड रूम भी होंगे। ग्राउंड फ्लोर के आधे भाग में बड़े प्रवेश द्वार बनाए जाएंगे। मुख्य द्वार से आखिरी गेट के बीच ओपन बड़ा हॉल होगा। इसमें एक रिसेप्शन काउंटर, चैनल गेट व ऊपर माले में जाने का रास्ता होगा। इसके अलावा यहां कॉमन लेटबाथ, भोजन व्यवस्था, स्टेज आदि बनाने का भी प्रस्ताव है। हज हाउस में हज कार्यालय में होने वाली सह रिपोर्टिंग, रियाल वितरण कक्ष की सुविधा भी होगी। यह पूरी तरह से हाईटेक होगा।
फ्लाइट भी लाई जा सकेगी
नवा रायपुर में हज हाउस बनने के बाद अभी तक नागपुर से जाने वाली हज फ्लाइट को भी रायपुर शिफ्ट कराया जा सकता है। सउदी अरब के लिए जाने वाली इंटरनेशनल फ्लाइट के लिए हज हाउस होना पहला नियम है। नवा रायपुर में हज हाउस बनने के साथ ही सउदी अरब की पहली फ्लाइट होगी जो रायपुर से उड़ान भरेगी। इससे छत्तीसगढ़ के हज यात्रियों को नागपुर और मुंबई जाने की अनिवार्यता भी खत्म हो जाएगी।

उमराह में जाने वाले लोग भी रुक सकेंगे
हज पर जाने और वहां से आने वालों के लिए अस्थायी आवास भी तैयार किए जाएंगे। जो लोग उमराह में जाने वाले होंगे वे भी हज हाउस में रुक सकेंगे। हज दफ्तर में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए स्थायी फ्लैट बनाए जाएंगे। इसके अलावा बस, ट्रक समेत गाड़ियों के आवागमन की भी सुविधा रहेगी। हज कमेटी के चेयरमैन असलम खान ने बताया कि हज हाउस का ड्राइंग-डिजाइन पहले से ही तैयार है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ड्राइंग डिजाइन।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3jTPsk9

0 komentar