धान खरीदी हेतु किसानों का पंजीयन 17 से शुरू हो चुका , August 18, 2020 at 09:31AM

जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 की धान खरीदी हेतु प्रशासनिक तैयारियां शुरू हो गई हैं। इसके तहत प्रथम चरण में किसानों के पंजीयन की कार्रवाई शुरू की जाएगी। इस संबंध में सोमवार को कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने जिला पंचायत सभागार में दो पालियों में ज़िले के राजस्व, खाद्य एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कलेक्टर ने बताया किसानों का पंजीयन 17 अगस्त से 31अक्टूबर तक चलेगी।
वे किसान जिन्होंने पिछले खरीफ वर्ष 2019-20 में धान खरीदी हेतु पंजीयन कराया था, उन्हें वापस समिति में आकर पंजीयन कराने की आवश्यकता नहीं होगी। यदि रकबे में किसी भी तरह बदलाव हुआ है तो ऐसे किसान अपना आवेदन समिति के माध्यम से जमा कर सकते हैं। ऐसे आवेदन ऑनलाइन फार्म के माध्यम से जमा होंगे एवं इसकी अनुमति तहसीलदार के माध्यम से प्राप्त होगी। इसी तरह यदि कोई किसान ने 2019-20 में पंजीयन नहीं करवाया था किंतु इस वर्ष धान विक्रय करने हेतु इच्छुक है, तो ऐसे नए किसानों का पंजीयन तहसील माड्यूल के माध्यम से तहसीलदार करेंगे।

25 अक्टूबर तक हर हाल में पंजीयन करा लें
कलेक्टर ने जिले के सभी किसानों से कहा है कि असुविधा से बचने के लिये नए एवं रकबे में संशोधन कराने वाले किसान 25 अक्टूबर तक पंजीयन करा लें ताकि किसी भी प्रकार की त्रुटि को समय रहते सुधारा जा सके। इसके लिये गांवों में मुनादी करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिये हैं। कलेक्टर ने बताया कि इस वर्ष ज़िले में उद्यानिकी तथा धान से पृथक अन्य फसलों के रकबों का किसी भी परिस्थिति में धान के रकबे के रूप में पंजीयन नहीं होना चाहिए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Fzyubb

0 komentar