181 नए कोरोना मरीज मिले, भिलाई मेयर पॉजिटिव; आज 12 बजे तक खुलेंगी राखी-मिठाई की दुकानें , August 03, 2020 at 06:07AM

राजधानी सहित कई शहरों में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना के मरीजों की संख्या कम नहीं हो रही है। रविवार को प्रदेश में 181 और रायपुर में 67 नए मरीज मिले। भिलाई के विधायक व महापौर संक्रमित हो गए हैं। कोरोना के लक्षण महसूस होने पर उन्होंने खुद को क्वारेंटाइन कर जांच के लिए सैंपल दिया था। वहीं राजभवन के रसोईया और दो जवानों रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। हालांकि राज्यपाल अनुसुईया उइके, सचिव सोनमणि बोरा और एडीसी की जांच हो चुकी है, उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। रायपुर में ही तीन मरीजों की मौत हो गई है। दूसरी ओर 3 अगस्त सोमवार को सुबह 6 से 12 बजे तक राखी और मिठाइयों की दुकानें खुल सकेंगी।
गुरुनानक चौक में रहने वाले ट्रांसजेंडर को गंभीर हालत में अंबेडकर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 30 वर्षीय ट्रांसजेंडर निमोनिया के अलावा एचआईवी पॉजिटिव थीं। इनके अलावा 67 वर्षीय बुजुर्ग को बुखार, गले में खराश और तेज सांस चलने के कारण एम्स में भर्ती कराया गया था। 17 जुलाई से भर्ती बुजुर्ग की 21 को पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 31 को उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ और उनकी मृत्यु हो गई। तीसरी मौत कुशालपुर की 62 वर्षीय महिला की हुई। वे उच्च रक्तचाप से पीड़ित थीं। इस बीच अंबेडकर अस्पताल के कैंसर वार्ड के डाक्टर और वहां के दो स्टाफ भी कोरोना पॉजिटिव हुए हैं। उनकी रिपोर्ट आने के बाद रविवार को कैंसर वार्ड को खाली करवाया गया। मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट कर वार्ड को सैनिटाइज करवाया गया। कैंसर विभाग के एचओडी डाॅ. विवेक चौधरी ने बताया कि मरीजों के इलाज पर किसी तरह का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। आईसीएमआर की गाइड लाइन के अनुसार मरीजों का इलाज किया जाएगा।

रायपुर के बाद दुर्ग में सबसे ज्यादा मरीज
रायपुर में 67 केस मिलने के अलावा दुर्ग में सबसे अधिक 19 केस मिले हैं। रायगढ़ में 18, राजनांदगांव में 11, बलौदाबाजार में 10, कोंडागांव और बीजापुर में 9- 9, महासमुंद व जांजगीर-चांपा में 8-8, बिलासपुर में 6, कांकेर, सरगुजा व कोरिया में तीन-तीन, कोरबा में 2 बालोद, मुंगेली, सूरजपुर, बस्तर, दंतेवाड़ा में एक-एक केस मिला है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
राजधानी के इंडोर स्टेडियम में कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। 200 बेड की क्षमता वाले इस हॉस्पिटल में ऐसे मरीजों को रखा गया है, जिनके कोरोना के हल्के लक्षण है। ऐसे मरीज बहुत जल्दी ठीक होकर घर चले जाते है। इन मरीजों को ताजी आवोहवा मिले इसलिए उन्हें स्टेडियम की गैलरी में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ घूमने की इजाजत दी जाती है। यहां पर मरीजों के तनाव को कम करने के लिए जिम के अलावा कई तरह की सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/30kkYzW

0 komentar