राज्य में नशीले सीरप की तस्करी करने वाले 3 गिरफ्तार, शहर के रईस लोगों से भी तार जुड़े , August 15, 2020 at 03:29PM

राजधानी रायपुर में शनिवार को कोतवाली पुलिस की टीम ने 3 लोगों को पकड़ा। इनके पास से 33 पेटियों में 4752 नशीले सीरप बरामद किए गए हैं। पुलिस ने नशे का ये सामान एक लग्जरी कार से बरामद किया। विदेशी ब्रांड की ये गाड़ी हाल ही में भारत में लॉन्च हुई है। तस्करों के महंगे रहन-सहन को देखकर पुलिस को शक है कि शहर के कुछ रईस भी इस गैंग में शामिल हैं। इसे लेकर पूछताछ जारी है। प्रदेश के सभी जिलों में यह आरोपी नशीले सीरप की तस्करी लंबे वक्त से कर रहे थे। इन तस्करों को पचपेड़ी नाका इलाके से पुलिस ने गिरफ्तार किया। पुलिस को इनपुट मिला था कि तस्कर ग्राहक की तलाश में हैं। आरोपियों के पास से 4 लाख 65 हजार रुपए का नशे का सामान बरामद किया गया है।


दिल्ली में रहता है सरगना

तस्वीर में दिख रही कार ही तस्करों ने इस्तेमाल की। थाने में नशीले सीरप के डिब्बों को रखा गया है।
तस्वीर में दिख रही कार ही तस्करों ने इस्तेमाल की। थाने में नशीले सीरप के डिब्बों को रखा गया है।


कोतवाली थाने से मिली जानकारी के मुताबिक पकड़ में आए आरोपियों में दुर्ग का रहने वाला योगेश देवांगन, रायपुर का विष्णु सोनी, और दुर्ग का अजय चौहान शामिल हैं। यह लोग दिल्ली में रहने वाले प्रेम झा और शैलेन्द्र तम्बोली के संपर्क में थे। दिल्ली से ही तस्करी का माल इन्हें मिल रहा था। गैंग का सरगना प्रेम झा है। यह रायपुर के महावीर नगर इलाके में रहता था। नशे का नेटवर्क इसी ने खड़ा किया। रायपुर से बाहर के लोगों को गैंग में शामिल किया जो तस्करी के बाद अपने ठिकानों में चले जाया करते थे। प्रेम रायपुर से फरार होने में कामयाब रहा, मगर पुलिस का दावा है कि जल्द ही इस नेटवर्क को जड़ से उखाड़ फेंकने का काम भी किया जाएगा। फिलहाल गिरफ्तार हुए आरोपियों को थाने लाया गया है, रिमांड पर भेजने की तैयारी पुलिस कर रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर कोतवाली थाने लाए गए आरोपियों की है। इससे पहले भी इसी नेटवर्क के कुछ युवकों को गिरफ्तार किया जा चुका है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Y6JuDo

0 komentar