529 नए मरीज, 24 घंटे में 13 मौतें; राजधानी में बिना मास्क बाइक पर घूमने वालों के घर भेजे जाएंगे नोटिस , August 15, 2020 at 06:01AM

रायपुर में शुक्रवार को काेरोना के 184 समेत प्रदेश में 529 नए मरीज मिले हैं। रायपुर में 10, दुर्ग में दो व बीजापुर में एक समेत 13 लोगों की मौत हुई है। राजधानी में मरीजों की संख्या 5000 पहुंचने की ओर है। अब तक 4973 मरीज मिल चुके हैं। अब तक प्रदेश में 131 मरीजों की मौत हो चुकी है, जिसमें 68 रायपुर के हैं। पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के ओएसडी, रिश्तेदार समेत 5 संक्रमित हुए हैं। डॉ. सिंह की रिपोर्ट गुरुवार को निगेटिव आ गई थी। इससे पहले उनकी पत्नी वीणा सिंह संक्रमित हुई थी। नए केस मिलाकर प्रदेश में अब मरीजों की संख्या 14561 है। वहीं कोरबा नगर निगम कमिश्नर भी संक्रमित मिले हैं। एक्टिव केस 4572 है। शुक्रवार को 199 मरीजों को छुट्‌टी दी गई। अब तक इलाज के बाद 9857 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

नए संक्रमितों में दुर्ग से 59, रायगढ़ व कोरबा से 37-37, बस्तर से 22, बिलासपुर से 20, राजनांदगांव से 18, जांजगीर-चांपा से 15, कांकेर से 13, नारायणपुर से 12, बेमेतरा व कोंडागांव से 11-11, काेरिया से 9, बालोद से 8, गरियाबंद व कवर्धा से 7-7, महासमुंद से 5, धमतरी, बलौदाबाजार, सरगुजा, जशपुर, बीजापुर व अन्य राज्य से 3-3 मरीज शामिल हैं। रायपुर के चंगोराभाठा, श्यामनगर, तेलीबांधा, कटोरातालाब, गांधीनगर, पुरानीबस्ती, बंजारी रोड, टाटीबंध, सुंदरनगर व अभनपुर में कोरोना मरीजों की मौत हुई है। ज्यादातर लोगों को सांस लेने में तकलीफ थी। बुखार के साथ दूसरी बीमारियों से भी पीड़ित थे। रायपुर में थोक में कोरोना के नए मरीज मिलने व मौतों का सिलसिला जारी है। 23 जुलाई से 100 से 246 मरीज मिल रहे हैं। एक, दो व तीन अगस्त को जरूर 100 से कम मरीज मिले। इन तीन दिनों को छोड़कर बाकी दिनों में ज्यादा संक्रमित मिल रहे हैं। गौर करने वाली बात यह है कि 31 मई तक रायपुर में केवल 15 मरीज थे। जून, जुलाई व अब अगस्त में 4906 मरीज मिल चुके हैं। 29 मई को पहली मौत के बाद जून में कोई मौत नहीं हुई थी। जुलाई में 23 व अगस्त में अब तक 46 मरीजों की कोरोना से मौत हो चुकी है।

दूसरी बीमारियों से बढ़ा रिस्क
नेहरू मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ. विष्णु दत्त व एचओडी ऑर्थो डॉ. एस फुलझेले के अनुसार कोरोना में दूसरी बीमारी से ग्रसित होने से रिस्क और बढ़ जाता है। अगर सर्दी, बुखार व सांस लेने में तकलीफ जैसे लक्षण दिखते ही संदिग्ध तत्काल जांच कराए तो रिपोर्ट आने के बाद उनका तुरंत इलाज शुरू हाे सकता है। इलाज से मरीज को गंभीर होने से बचाया जा सकता है। शासन ने लगातार मौत पर विशेषज्ञों से चर्चा भी की है कि आखिर ज्यादा मौत की वजह क्या है? डेथ ऑडिट के लिए एक कमेटी भी बनाई गई है, जो कारणों पर मंथन कर रही है।

पांच जिले जहां सबसे ज्यादा मौत

  • रायपुर - 70
  • दुर्ग - 16
  • बिलासपुर - 08
  • राजनांदगांव - 07
  • रायगढ़ - 05

केंद्र ने कहा-इस माह के अंत तक छग में 63 हजार केस
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रदेश में अगस्त के अंत तक कोरोना मरीजों की संख्या 63 हजार तक पहुंचने का अनुमान लगाया है। इस पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा है कि हम जागरूकता व तैयारियों के माध्यम से इस संख्या को 23 हजार के पार न जाने देने का पूरा प्रयास करेंगे। सिंहदेव ने कहा है कि कोरोना से जंग जारी है और इसे हल्के में लेना अनिश्चित चुनौतियां खड़ी कर सकता है।

रायपुर में बिना मास्क बाइक पर घूमने वालों के घर नोटिस भेजेंगे
कलेक्टर व एसएसपी के निर्देश पर अब ऐसे लोगों के घरों में नोटिस भेजी जा रही है मास्क पहने बिना ही बाइक चला रहे हैं। ऐसे लोगों की निगरानी कंट्रोल रूम में लगे स्क्रीन से की जा रही है। जिला पंचायत के सीईओ डॉ. गौरव कुमार सिंह ने बताया कि प्रशासन, पुलिस और निगम की संयुक्त टीम लगातार चौक-चौराहों पर चालानी कार्यवाही कर रही है। लोगों को जागरूक करने के इस महा-अभियान से कई सामाजिक संस्थाएं, वेलफेयर एसोसिएशन, मोहल्ला समितियों के साथ ही एक बड़ा वर्ग जुड़ चुका है। इन दलों की ओर से कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनने, दूरी बनाए रखने व भीड़-भाड़ में जाने से बचने की अपील आम लोगों से की जा रही है। शुक्रवार को भी स्वयंसेवी संगठनों के साथ जिला व पुलिस अधिकारियों का विशेष दस्ता न्यू राजेंद्र सब्जी बाजार, अमलीडीह बाजार, तेलीबांधा सब्जी बाजार और बीटीआई बाजार क्षेत्र में जांच के लिए गई। वहां मौजूद लोगों को मास्क बांटने के साथ ही उन्हें सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रखने की सीख दी गई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
धरसींवा में शुक्रवार को सैंपलिंग के लिए लोगों की कतार।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3fVtXMB

0 komentar