6 नए सहकारी बैंक खुलेंगे, अरपा बेसिन प्राधिकरण भी बनेगा , August 21, 2020 at 06:04AM

प्रदेश में 6 नए सहकारी बैंक खुलेंगे। बैकों की स्थापना के लिए आरबीआई को प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा। यह फैसला सीएम भूपेश बघेल की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में ली गई। इसके अलावा गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के पदों पर भर्तियों में स्थानीय युवकों को प्राथमिकता दी जाएगी। सरकार ने बस्तर विश्वविद्यालय का नाम झीरम घाटी नक्सल हमले में शहीद महेंद्र कर्मा के नाम पर करने का भी निर्णय लिया है। कैबिनेट ने अरपा बेसिन विकास प्राधिकरण के गठन को मंजूरी दी है।
अरपा विकास प्राधिकरण का गठन का फैसला पिछली सरकार ने लिया था। यह आवास एवं पर्यावरण मंत्रालय के अधीन था। इसके बाद से यह अस्तित्व में नहीं आ पाया। अब प्राधिकरण को सिंचाई विभाग के अधीन कर दिया गया है। कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने फैसलों के बारे में बताया कि नए सहकारी बैंक महासमुंद, बालोद, बलौदाबाजार, बेेमेतरा, जांजगीर और खोलने का निर्णय लिया गया है। वर्तमान में 6 सहकारी बैंक हैं। नए सहकारी बैंक खुलने से बैंकों की संख्या बढ़कर अब 12 हो जाएगी। इसी तरह एक अन्य अहम फैसले में सरकार ने अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति और पिछड़ा वर्ग आयोग में सदस्यों की संख्या बढ़ाने का फैसला किया है। वर्तमान में अध्यक्ष के अलावा दो सदस्य होते हैं। इनकी संख्या बढ़ाकर अध्यक्ष, उपाध्यक्ष के साथ 6 सदस्य किया जाएगा। इस संबंध में विधानसभा के मानसून सत्र में विधेयक लाया जाएगा। इसी तरह बस्तर विश्वविद्यालय का नाम स्व. कर्मा के नाम पर करने के लिए भी प्रस्ताव लाया जाएगा। सत्र में सरकार अनुपूरक बजट भी लेकर आएगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/31gml3m

0 komentar