बिलासपुर में सड़क हादसे में हुई थी युवक की मौत, पुलिस ने 80 दिन बाद दर्ज की एफआईआर , August 13, 2020 at 06:12AM

पुलिस वारदात होने के बाद ही मौके पर पहुंचती है। फिर केस सुलझाने में समय लगता है, लेकिन बिलासपुर में तो पुलिस ने लेटलतीफी की सीमा ही पार कर दी। घटना होने के बाद पुलिस को एफआईआर दर्ज करने में ही ढाई महीने बाद लग गए। मामला कोटा थाना क्षेत्र में हुए सड़क हादसे में युवक की मौत का है। पुलिस ने मंगलवार को रिपोर्ट दर्ज की।

मई में हुए हादसे में हुई थी युवक की मौत
दरअसल, कोटा के कोटसागर पारा निवासी राजकुमार दुबे (35) पुत्र रामबाबू दुबे 22 मई को अपने दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने अचानकमार बिंदावल गया था। शाम को अपने दोस्त सत्तार मोहम्मद के साथ बुलेट से लौट रहा था। इस दौरान शिवतराई शासकीय प्राथमिक स्कूल के सामने मेन रोड पर तेज रफ्तार पिकअप ने बुलेट को टक्कर मार दी।

पुलिस बोली- सिम्स चौकी से मेमो देर से मिला
हादसे में राजकुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोटा लाया गया, जहां से सिम्स रेफर हो गया। उसी दिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 80 दिन पहले हुई इस घटना पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। कोटा पुलिस के अनुसार सिम्स चौकी से मेमो मिलने में मेमो देर से मिला। इसके कारण एफआईआर में देरी हुई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/33UzzEG

0 komentar