सोशल डिस्टेंसिंग और सैनिटाइजेशन के साथ छात्रों को दिया गया एग्जाम सेंटर में प्रवेश; पहली पाली की परीक्षा 9 बजे से हुई शुरू , September 01, 2020 at 09:17AM

विरोध के बीच जेईई एग्जाम मंगलवार से शुरू गया है। परीक्षा 6 सितंबर तक चलेगा। पहली पाली में सुबह 9 बजे से शुरू होने वाले एग्जाम के लिए परीक्षार्थियों का दो घंटे पहले ही सेंटर पर पहुंचना शुरू हो गया था। परीक्षार्थियों को सोशल डिस्टेंसिंग, थर्मल स्कैनिंग और सैनिटाइज कर सेंटर में प्रवेश दिया गया। अंदर उन्हें मास्क दिया जाएगा।

पहली पाली में सुबह 9 बजे से शुरू होने वाले एग्जाम के लिए परीक्षार्थियों का दो घंटे पहले ही सेंटर पर पहुंचना शुरू हो गया है।

रायपुर में सिर्फ सरोना स्थित डिजिटल जोन पार्थिवी प्राविंस को एग्जाम सेंटर बनाया गया है। यहां परीक्षा देने के लिए रायपुर सहित, भिलाई, दुर्ग, सरगुजा, बस्तर सहित आसपास के जिलों से परीक्षार्थी पहुंचे हैं। इसके अलावा बिलासपुर और भिलाई में सेंटर भी सेंटर बनाए गए हैं। एग्जाम सेंटर में पैरेंट्स का प्रवेश प्रतिबंधित है।

रायपुर सेंटर में पहली पाली में 250 और दूसरी पाली में 350 परीक्षार्थी होंगे शामिल
प्रदेश में जेईई मेंस में 13,425 अभ्यर्थी शामिल हैं। इनमें से रायपुर सेंटर पर पहली पाली में करीब 250 और दूसरी पाली के एग्जाम में करीब 350 परीक्षार्थी शामिल हो सकते हैं। इन 6 दिनों में रायपुर सेंटर पर 5147 अभ्यर्थी एग्जाम देंगे। रोज एक पाली में करीब 450 स्टूडेंट होंगे। परीक्षा केंद्रों के अंदर पानी की बोतल और सैनिटाइजर ले जाने की अनुमति है।

परीक्षा देने के लिए रायपुर सहित, भिलाई, दुर्ग, सरगुजा, बस्तर सहित आसपास के जिलों से परीक्षार्थी पहुंच रहे हैं। इसके अलावा बिलासपुर और भिलाई में सेंटर भी सेंटर बनाए गए हैं।

जेईई मेंस के लिए बनाए गए हैं पांच केंद्र

  • रायपुर के सरोना स्थित डिजिटल जोन पार्थिवी प्राविंस
  • भिलाई के सिरसा स्थित पार्थिवी कॉलेज
  • बिलासपुर स्थित एलसीआइटी
  • बिलासपुर स्थित चौकसे इंजीनियरिंग कॉलेज
  • बिलासपुर के कोटा स्थित डॉ. सीवी रमन यूनिवर्सिटी

एग्जाम सेंटर के लिए विशेष व्यवस्था, पर स्टूडेंट्स को पता नहीं
जेईई एग्जाम के लिए रायपुर जिला प्रशासन ने परीक्षार्थियों को लाने, ले जाने और ठहरने के लिए इंतजाम किए हैं। हालांकि इसकी जानकारी न तो ज्यादातर छात्रों को हैं और न ही उनके परिजनों को। ऐसे में बहुत कम ही ऐसे परीक्षार्थी हैं, जो बसों से पहुंचे हैं। ज्यादातर अपने परिजनों या फिर खुद के संसाधन से एग्जाम सेंटर पर आए हैं।

रायपुर जिला प्रशासन ने परीक्षार्थियों को लाने, ले जाने और ठहरने के लिए इंतजाम किए हैं। हालांकि इसकी जानकारी न तो ज्यादातर छात्रों को हैं और न ही उनके परिजनों को।

जिला प्रशासन की ओर से यह सुविधाएं दी गईं

  • बस और हॉस्टल में ठहरने की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर 99266-15200 पर संपर्क कर सकते हैं।
  • जिला प्रशासन 6 सितंबर तक देगा एग्जाम सेंटर पहुंचाने-लाने और हॉस्टल में ठहरने की सुविधा
  • जिला प्रशासन ने 52 सीटर 14 बसें लगाई गई हैं इस प्रोजेक्ट के लिए।
  • कोरोना से बचाव के लिए बसों को रोज सैनिटाइज किया जाएगा।
  • स्टूडेंट्स को एक सीट छोड़कर बैठने और मास्क पहनने के निर्देश दिए गए हैं।
  • तय स्थानों पर रोज सुबह 5 बजे बस लग जाएंगी। छह बजे एग्जाम सेंटर के लिए रवाना हो जाएंगी।
  • अन्य जिलों के 20 छात्र और 25 छात्राओं को जिला प्रशासन ने हॉस्टल में ठहरने की सुविधा दी है।

रायपुर में छात्रों की सुविधा के लिए नोडल अधिकारियों के नंबर

नाम पद मोबाइल नंबर
संदीप कुमार अग्रवाल संयुक्त कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी 7415841725
दीपक भारद्वाज तहसीलदार नजूल 9891665115
केएस पाटले जिला मिशन समन्वयक 9926615200

रायपुर में इन स्थानों से मिलेंगी बसें

  • कलेक्टर कार्यालय, घड़ी चौक
  • आरटीओ कार्यालय, बंजारी धाम के पास, बिलासपुर रोड
  • एजी ऑफिस के पास, विधानसभा चौक, बलौदाबाजार रोड
  • कृषि विश्वविद्यालय गेट के पास, आरंग-मंदिर हसौद रोड
  • पचपेड़ी नाका, अभनपुर रोड
  • टाटीबंध चौक, गगन होटल के पास, रिंग रोड नंबर-1
  • जनपद पंचायत कार्यालय धरसींवा/आरंग/तिल्दा/अभनपुर

छात्राओं के साथ परिजनों को भी आने-जाने की अनुमति रहेगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
रायपुर के सरोना स्थित इंस्टीट्यूट को जेईई के लिए एग्जाम सेंटर बनाया गया है। जेईई एग्जाम मंगलवार से शुरू हो रहा है और 6 सितंबर तक चलेगा। परीक्षार्थियों को सोशल डिस्टेंसिंग, थर्मल स्कैनिंग और सैनिटाइज कर सेंटर में प्रवेश दिया जा रहा है। अंदर उन्हें मास्क दिया जाएगा। 


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2QEdsuc

0 komentar