भूमि पूजन में कौशल्या माता मंदिर के साथ रानी लक्ष्मीबाई बलिदान स्थल की मिट्टी भी अर्पित , August 05, 2020 at 03:06PM

अयोध्या में बनने वाले रामलला के मंदिर में ननिहाल यानी छत्तीसगढ़ का भी योगदान मिलेगा। मंदिर की नींव में रायपुर के चंदखुरी स्थित माता कौशल्या के मंदिर के साथ ग्वालियर स्थित रानी लक्ष्मीबाई के बलिदान स्थल की मिट्‌टी भी डाली जाएगी। इसे छत्तीसगढ़ के भांजे की ओर से मंदिर के शिलान्यास से ठीक एक दिन पहले अर्पित किया गया है।

दरअसल, रायपुर से 23 जुलाई को भगवान राम के ननिहाल की मिट्टी लेकर मोहम्मद फैज निकले थे। वह मंगलवार देर शाम अयोध्या पहुंच गए। वहां कारसेवकपुरम में महंत शंभुदेवाचार्य को मिट्टी सौंपी। फैज ने कहा कि प्रबिसि नगर कीजे सब काजा, हृदय राखि कोसलपुर राजा। भगवान श्रीराम चंद्र की कृपा से संकल्प पूर्ण हुआ।

रास्ते में सहयोग और लोगों का प्रेम मिला
फैज बताते हैं कि वे रायपुर के चंदखुरी स्थित कौशल्या माता मंदिर से मिट्टी लेकर निकले थे। रास्ते में रतनपुर के महामाया मंदिर, धनपुरी के ज्वाला देवी मंदिर, छतरपुर के तुलसी माता मंदिर, ग्वालियर स्थित महारानी लक्ष्मी बाई बलिदान स्थल, दाता बंदीछोड़ गुरुद्वारा, ग्वालियर किले की मिट्टी भी लोगों ने दी। इन सबको संतों को सौंप दिया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अयोध्या में बनने वाले रामलला के मंदिर में ननिहाल का भी योगदान मिलेगा। मंदिर की नींव में रायपुर के चंदखुरी स्थित माता कौशल्या के मंदिर के साथ ही ग्वालियर स्थित रानी लक्ष्मीबाई के बलिदान स्थल की मिट्‌टी भी डाली जाएगी। रायपुर से निकले मोहम्मद फैज ने इसे अर्पित किया है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2DvpyT7

0 komentar