कोरोना पॉजिटिव युवक ने अस्पताल में लगा ली फांसी, इलाज के लिए कोविड सेंटर जाने से भी कर चुका था इंकार , August 06, 2020 at 01:37PM

जिले के कोविड केयर सेंटर में कोरोना का इलाज कराने आए युवक ने आत्महत्या कर ली। घटना बुधवार की देर रात को हुई थी। युवक ने अस्पताल के वॉशरूम में बनी खिड़की पर गमछे से फंदा बनाया और इसी से लटककर जान दे दी। युवक जब अपने बेड पर नजर नहीं आया तो इसकी मां ने खोजना शुरू किया। तब इसका खुलासा हुआ कि युवक ने खुदकुशी कर ली है। पोस्टमार्टम के बाद युवक का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार किया जाएगा।


अस्पताल जाने से किया था इंकार
जानकारी के मुताबिक मालखरौदा क्षेत्र के जमगहन गांव में रहने वाले 40 साल के शख्स की रिपोर्ट 4 अगस्त को पॉजिटिव आई थी। यह बात सामने आई कि खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की वजह वह काफी डर गया था। अस्पताल जाने से भी इंकार कर दिया था। उसने शर्त रखी कि यदि उसकी मां साथ जाएगी तो वह अस्पताल जाएगा। मां को भी ले जाया गया,मगर उन्हें अलग रखा गया था। घटना स्थल से किसी तरह का सुसाइड नोट पुलिस को नहीं मिला है। जांच और पूछताछ की जा रही है।


पैदल लौटा था हरिद्वार से
युवक काम के सिलसिले में हरिद्वार गया हुआ था। 20 जुलाई को वह छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले में अपने गांव आने के लिए रवाना हुआ। 2 अगस्त को वह गांव पहुंचा। उसने लोगों को बताया कि लिफ्ट लेकर तो कभी कई किलोमीटर पैदल चलकर वह यहां तक आया है। सैंपल लेकर जांच की गई तो युवक पॉजिटिव पाया गया। जांजगीर के एसडीओपी जितेंद्र चंद्राकर ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। दिव्यांग कोविड केयर सेंटर के प्रभारी डॉ अनिल जगत ने बताया कि सुबह ही उन्हें घटना के बारे में पता चला।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
तस्वीर जांजगीर जिले की है। युवक को पीपीई किट पहनकर स्वास्थ्यकर्मी पोस्टमार्टम के लिए लेकर गए। इस युवक के परेशान रहने की जानकारी मिल रही है। सरकार का दावा है नंबर 104 पर कॉल करके लोग मानसिक परामर्श भी ले सकते हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3kh1NPB

0 komentar