प्रथम वर्ष के नियमित छात्रों का मूल्यांकन असाइनमेंट से , August 06, 2020 at 06:31AM

ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर के नियमित छात्रों के मूल्यांकन के लिए नया फार्मूला अपनाया जा सकता है। असाइनमेंट के तौर पर इन्हें भी ऑनलाइन प्रश्नपत्र भेजे जा सकते हैं। जिसके जवाब छात्रों को निर्धारित अवधि में देना होगा। मूल्यांकन के इस नए फार्मूले को लेकर तैयारी की जा रही है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए उच्च शिक्षा विभाग ने जून में एक निर्देश जारी किया था। इसके तहत इन्हें परीक्षा से छूट दी गई थी।
वार्षिक परीक्षा देने वाले प्रथम वर्ष के छात्रों को परीक्षा केंद्र में जाकर परीक्षा देने से छूट मिल गई, लेकिन इनके मूल्यांकन को लेकर मामला अटक गया। उच्च शिक्षा विभाग ने रिजल्ट तैयार करने के लिए तीन आप्शन दिए थे। एक आप्शन था पिछली परीक्षा के प्राप्तांक के आधार पर, दूसरा आतंरिक मूल्यांकन और तीसरा असाइनमेंट से। अब पिछली परीक्षा के आधार पर फर्स्ट ईयर के छात्रों का मूल्यांकन मुश्किल है। क्योंकि, इनकी पिछली परीक्षा कक्षा बारहवीं थी। कई काॅलेज में आतंरिक मूल्यांकन का सिस्टम नहीं है। इसलिए असाइनमेंट पर जोर दिया जा रहा है। प्रथम वर्ष के नियमित छात्रों को भी उनके ईमेल पर प्रश्न पत्र भेजे जा सकते हैं। ताकि बचे हुए पेपरों का मूल्यांकन किया जा सके। इस संबंध में राज्य के विभिन्न राजकीय विवि में तैयारियां की जा रही है। जल्द ही इस संबंध में सूचना जारी होगी।

पौने दो लाख छात्रों को मिली है परीक्षा से छूट
राज्य के विभिन्न राजकीय विवि से जुड़े करीब 500 काॅलेजों में फर्स्ट व सेकंड ईयर के पौने दो लाख छात्रों को परीक्षा से छूट दी गई थी। इस संबंध में जून में निर्देश जारी हुए थे। शिक्षाविदों ने बताया कि विभिन्न विवि की वार्षिक परीक्षा मार्च की शुरुआत में ही हो गई थी। कोरोना की वजह से बाद में परीक्षाएं स्थगित की गईं। इसे लेकर यह तय किया गया कि 14 मार्च तक हो परीक्षाएं हुई हैं उनका मूल्यांकन होगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
प्रतीकात्मक फोटो।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3a0DTmT

0 komentar