बेलतरा के पूर्व उप सरपंच ने पंचायत भवन के सामने मिट्टी का तेल छिड़ककर आत्महत्या की कोशिश की , August 17, 2020 at 05:56AM

अपने कार्यकाल के दौरान अपनी फर्म से दी गई निर्माण सामग्री की राशि का अब तक भुगतान नहीं होने से क्षुब्ध पूर्व उप सरपंच ने 15 अगस्त के दिन बेलतरा पंचायत के सामने खुद पर मिट्टी का तेल छिड़क कर आत्महत्या का प्रयास किया। उसके दोस्तों ने किसी तरह बचाकर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचे अफसरों के समझाने पर सचिव ने सशर्त राशि भुगतान करने का आश्वासन दिया तब वह शांत हुआ। ग्राम पंचायत बेलतरा के पूर्व उप सरपंच रोहित कौशिक ने पंचायत भवन के सामने आत्मदाह करने का प्रयास किया। इस दौरान उसके तीन दोस्तों ने पानी डालकर किसी तरह उसे बचाया। इसकी पुलिस को सूचना दी गई तो रतनपुर थाना प्रभारी प्रशिक्षु डीएसपी ललिता मेहर बल के साथ बेलतरा पहुंचीं।

उन्होंने युवक को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह नहीं माना। जिसकी सूचना उच्च अधिकारियों को दी गई तो नायाब तहसीलदार राजकुमार साहू, जनपद सीईओ वर्मा व सांसद प्रतिनिधि सत्येंद्र कौशिक मौके पर पहुंचे। उन्होंने रोहित को आत्मदाह नहीं करने की समझाइश देते हुए समस्या का निराकरण कराने का आश्वासन दिया। युवक का आरोप है कि पूर्व सरपंच महेश्वर मरकाम और सचिव अजय डोंगरे ने पंचायत के निर्माण कार्य के लिए मेरी फर्म प्राची इंटर प्राइजेज से 10 लाख की निर्माण सामग्री 2019 में ली थी। जिसके भुगतान के लिए 6 माह से चक्कर लगवा रहे हैं। ग्राम पंचायत में जाकर पैसे की मांग की ताे सचिव ने कहा कि भुगतान पर रोक लगा दी गई है। इसके बाद उप सरपंच और पंचों से बात की लेकिन कोई सही जवाब नहीं मिला।

लिखित आश्वासन पर माना
आत्मदाह की धमकी के मामले में समझौते का प्रयास किया गया। इसमें रोहित को बेलतरा सचिव ने लिखित में दिया है। इसमें बताया है कि उसके कराए कार्यों का भुगतान करने और अधूरे कार्यों को पूर्ण कराकर सत्यापन व मूल्यांकन कर वर्तमान सरपंच को सौंपेगा। अगर अधूरे कार्यों की अतिरिक्त राशि जारी हुई है तो वह राशि वापस करेगा। सामुदायिक भवन का 4 लाख जिला पंचायत से आ चुका है, जो भी इनकी बकाया शेष राशि है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2CCUhh6

0 komentar